नयी दिल्ली: भाजपा नेताओं ने रविवार को कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी की हार का अनुमान लगाने वाले एक्जिट पोल के नतीजे ‘फेल’ होंगे क्योंकि इन सर्वेक्षणों में शाम के समय डाले गये वोटों का हिसाब नहीं लगाया गया है. शनिवार को मतदान का समय शाम छह बजे खत्म होने के तुरंत बाद न्यूज चैनलों द्वारा प्रसारित किये गये एक्जिट पोलों में आम आदमी पार्टी (आप) को शानदार जीत मिलने का दावा किया गया है.

भाजपा के एक शीर्ष नेता ने कहा कि एक्जिट पोल के नतीजे मतदान की सही प्रतिनिधिक तस्वीर नहीं पेश करते हैं. उन्होंने सवाल किया कि निर्धारित समय शाम छह बजे के बाद दो घंटे तक मतदान चलता रहा, जबकि एक्जिट पोल के परिणाम तुरंत उसके बाद आने लगे थे. ऐसे में वे कैसे प्रतिनिधिक हो सकते हैं? भाजपा नेता ने यह भी कहा कि प्रारंभिक दौर में मतदान की गति धीमी थी लेकिन दोपहर बाद तक उसमें तेजी आयी जब भाजपा कार्यकर्ताओं ने मतदाताओं से मतदान केंद्रों पर पहुंचने की अपील की. नयी दिल्ली विधानसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार सुनील यादव ने दावा किया कि इस सीट से आप उम्मीदवार और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल चुनाव हारने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैं अपनी जीत और केजरीवाल की हार की गारंटी देता हूं. यदि परिणाम भिन्न रहा तो मैं अपने जीवन में कोई चुनाव नहीं लडूंगा.

मंगलवार को होगी मतगणना
दिल्ली में 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए शनिवार को मतदान हुआ था. मंगलवार को मतगणना होगी. भाजपा नेताओं ने एक्जिट पोल के नतीजे को बकवास करार दिया है. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि एक्जिट पोल फेल हो जाएगा और उनकी पार्टी चुनाव में 48 सीटें जीतेगी. शनिवार को देर रात भाजपा प्रदेश कार्यालय में बैठक में केंद्रीय मंत्री अमित शाह, पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा और अन्य नेताओं ने उभरती स्थिति का आकलन किया था और विभिन्न हलकों से प्रतिक्रिया ली. सूत्र ने दावा किया कि पार्टी को पूरा विश्वास है कि खराब से भी खराब स्थिति में वह दिल्ली में 25-32 सीटें जीतने जा रही है. शाह कह चुके हैं कि भाजपा 45 से अधिक सीटें जीतेगी और दिल्ली में सरकार बनायेगी. चुनाव प्रचार के दौरान शाह ने कहा कि 11 फरवरी के नतीजे सभी को चौंका देंगे.