नई दिल्ली: इन दिनों दिल्ली के कैब ड्राइवर्स अपने फर्स्ट एड किट में कंडोम लेकर घूम रहे हैं. इस मामले पर ड्राइवर्स का कहना है कि कंडोम ना लेकर चलने पर उनका चालान कट रहा है. कैब चालक कंडोम नहीं होने के कारण चालान काटे जाने की शिकायत कर रहे हैं. वहीं, पुलिस इससे इंकार कर रही है. विशेष पुलिस आयुक्त (यातायात) ताज हसन का कहना है कि मोटर व्हिकल एक्ट में कंडोम को लेकर कोई प्रावधान नहीं है और ना ही इसके लिए कोई चालान काटा जा रहा है.

वहीं, इस मामले पर कैब ड्राइवर्स का कहना है कि जब चालान को लेकर पुलिसवालों से पूछा जाता है तो वो कोई जवाब नहीं देते और कंडोम के नाम पर चालान काटकर पकड़ा देते हैं. इससे उन्हें परेशानी हुई और उन्होंने कंडोम लेकर चलना शुरू कर दिया.

मॉब लिंचिंग पर शशि थरूर बोले- हत्या करने वाले कर रहे हिंदू धर्म का अपमान, क्या चुनावी जीत से मिला मारने का अधिकार?

कैब ड्राइवर्स के अनुसार, कंडोम का कई तरीके से इस्तेमाल होता है. कार में मौजूद प्रेशर पाइप फट जाने पर या किसी के घायल होने की अवस्था में कंडोम का इस्तेमाल किया जा सकता है. कैब ड्राइवर्स द्वारा कंडोम रखकर चलना चर्चा का विषय बना हुआ है. बता दें कि नए मोटर व्हीकल एक्ट के चलते यातायात नियम काफी सख्त हो गए हैं. किसी भी अनियमितता पर बड़ा जुर्माना वसूला जा रहा है. कुछ दिन पहले इसे लेकर कैब ड्राइवर्स व अन्य वाहन चालक हड़ताल भी कर चुके हैं.