Coronavirus in Delhi: दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं. शहर रेड जोन से भरा है. इस बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कई बातें कही हैं. Also Read - Delhi CM अरविंद केजरीवाल ने कहा-हमें बस हर महीने 85 लाख डोज दीजिए, तीन महीने में सबको दे देंगे कोरोना टीका

केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में 10 लाख की आबादी पर 2300 टेस्ट हो रहे हैं. गरीबों को राशन मुफ्त दिया जा रहा है. हर व्यक्ति को 10 किलो राशन मुफ्त बांटा जा रहा है. Also Read - सभी मीडिया हाउस के ऑफिस में जाकर कोरोना वैक्सीन लगाएगी दिल्ली सरकार, खुद उठाएगी सारा खर्चा

उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मरीज जल्दी स्वस्थ भी हो रहे हैं. अब तक 1100 लोग ठीक हो चुके हैं. Also Read - दिल्ली में प्राइवेट एम्बुलेंस सेवाओं के लिए अधिकतम कीमत तय की गई, 'आदेश न मानने वालों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई'

 

लोकनायक अस्पताल में प्लाज्मा थेरेपी का जो ट्रायल किया गया था, वो पहला मरीज कल ठीक होकर अपने घर चला गया है.

जिस समय मरीज पर ट्रायल किया गया था उस समय उसकी हालत नाजुक थी. वो आईसीयू में था, लेकिन बृहस्पतिवार को ठीक होकर अपने घर चला गया.

दिल्ली सरकार को प्लाज्मा थेरेपी के नतीजे अच्छे मिले हैं. इसलिए प्लाज्मा ट्रायल जारी रहेगा.

इस मौके पर केजरीवाल ने प्लाज्मा डोनेट करने वालों का शुक्रिया किया. साथ ही अन्य कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों से आगे आकर प्लाजज्मा डोनेट करने को भी कहा.

कोटा से बच्चे आएंगे वापस
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोटा में जो बच्चे आईआईटी की तैयारी करने गए थे, फंसे हुए थे, उन्हें वापस लाया जाएगा. दिल्ली से 40 बसें कोटा जा रही हैं

उम्मीद है कि कल यह बसें बच्चों को लेकर वापस आ जाएंगी. आने के बाद बच्चों को अपने घर में 14 दिन क्वॉरेंटाइन करना है.