नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल करने पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी के कैंडीडेट अरविंद केजरीवाल को 45वां टोकन नंबर मिला है जिससे वे नामांकन के आखिरी दिन अभी तक अपना पर्चा दाखिल नहीं कर पाए हैं. खबरों के मुताबिक नई दिल्ली सीट से दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार अरविंद केजरीवाल रिटर्निंग ऑफिसर के ऑफिस में मौजूद हैं, क्योंकि उन्हें अपना नामांकन दाखिल करना बाकी है और उनका टोकन नंबर 45 है.

हालांकि नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि उनकी अगले पांच साल की यात्रा अब शुरू होती है और उनका उद्देश्य भ्रष्टाचार को हराना तथा दिल्ली को आगे ले जाने का है. उन्होंने यह भी ट्वीट किया कि वह नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए लाइन में खड़े हैं.


केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘अपना नामांकन पत्र भरने का इंतजार कर रहा हूं. मेरा टोकन नंबर 45 है. यहां नामांकन दाखिल करने के लिए अनेक लोग हैं. मुझे खुशी है कि इतने अधिक लोग लोकतंत्र में भागीदारी कर रहे हैं.’’ आप के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल को अपना नामांकन पत्र सोमवार को दाखिल करना था, लेकिन अपने रोडशो के कारण विलंब के चलते वह ऐसा नहीं कर पाए.

केजरीवाल ने कहा, ‘‘अगले पांच साल की यात्रा अब यहां से शुरू होती है. दिल्ली में हुए अच्छे काम की तरह मैं उम्मीद करता हूं कि अगले पांच साल में भी अच्छा काम होगा.’’ उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों का उद्देश्य जहां उन्हें हराने का है, वहीं उनका उद्देश्य भ्रष्टाचार को हराना और दिल्ली को आगे ले जाने का है.

केजरीवाल ने कहा, ‘‘भाजपा, कांग्रेस, लोजपा, जजपा, जदयू और राजद साथ आ गए हैं. इस बार दिल्ली में इस तरह का गठबंधन है. इन सभी दलों का एकमात्र उद्देश्य यह है कि केजरीवाल को कैसे हराया जाए. और मेरा केवल एक उद्देश्य है कि भ्रष्टाचार का कैसे खात्मा किया जाए और दिल्ली को कैसे आगे ले जाया जाए.’’

आप प्रमुख ने कहा, ‘‘वे (विपक्षी दल) कह रहे हैं कि केजरीवाल को हराओ और मैं कह रहा हूं कि स्कूलों को बेहतर बनाओ, अस्पतालों को बेहतर बनाओ. उनका एकमात्र उद्देश्य केजरीवाल को हराने का है.’’

(इनपुट भाषा)