जेएनयू का मामला दिन पर दिन गर्माता नज़र आरहा है। आपको बता दें की कल जब कन्हैया कुमार की पेशी के दौरान वकीलों के तरफ से पत्रकारों और छात्रों के ऊपर हमला बोलकर मारपीट को नजाम दिया गया। उससे मीडिया में खासी नाराज़गी देखने मिल रही है। इस मामले के बारे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलने पहुंचे हैं। केजरीवाल मिलने से पहले इस मामले की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दे दियें हैं। यह भी पढ़ें: JNU में देश विरोधी नारा मामला: 5 आरोपी छात्र कैंपस से फरार,CPM नेता येचुरी ने वीडियो पर उठाये सवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलने की वजह साफ तौर पर इस मारपीट को माना जा रहा है। आपको बता दें की कल पटियाला हाउस कोर्ट में पत्रकारों और छात्रों की पिटाई के कारण को लेकर पत्रकारों की एक टीम ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर उन वकीलों के खिलाफ शिकायत की जिन्होंने उनपर हाथ उठाया। इस मारपीट का विरोध करते हुए आज पत्रकारों ने प्रेस क्लब से सुप्रीम कोर्ट तक रैली निकाली। यह भी पढ़ें: JNU देश विरोधी नारा मामला: राजनाथ ने कहा-जेएनयू को हाफिज सईद का था समर्थन, छात्रों ने जारी किया नया वीडियो

दूसरी तरफ एबीवीपी समेत आम लोग जेएनयू के बहार देशद्रोहियों के खिलाफ नारे लगा रहें है। वहीं दिल्ली हाई कोर्ट ने आज सरकार की ओर से दायर जेएनयू मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी याचिका पर सुनवाई से इनकार कर दिया है। हाई कोर्ट की माने तो की हुई याचिका अधूरी है और अधूरी याचिका के आधार पर कोर्ट सुनवाई नहीं कर सकता।