नई दिल्ली: पूरे देश में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच दिल्ली सीएम अरविंद केरजरीवाल ने पूरी दिल्ली में 31 मार्च तक लॉकडाउन की घोषणा की है. दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, “हमने कल (23 मार्च) को रात के 12 बजे से पूरी दिल्ली में लॉकडाउन का निर्णय लिया है जो 31 मार्च 2020 की आधी रात तक रहेगा.” Also Read - PM मोदी ने सोशल वर्कर्स से कहा, Coronavirus पर गलत सूचना और अंधविश्वास को दूर करें

दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, “दिल्ली में बंद के दौरान, किसी व्यक्ति से कोई दस्तावेज या सबूत नहीं मांगे जाएंगे यदि वे कहते हैं कि वे किसी आवश्यक सेवा प्रदान करने या किसी जरूरी काम के लिए सड़कों पर हैं.” केजरीवाल ने कहा कि सभी प्राइवेट ऑफिस बंद रहेंगे, लेकिन स्थायी और संविदात्मक – दोनों कर्मचारियों को ऑन-ड्यूटी माना जाएगा. कंपनियों को उन्हें इस अवधि के लिए वेतन प्रदान करना होगा. Also Read - Covid-19 Lockdown: 'पांड्या ब्रदर्स' ने घर को बनाया स्टेडियम! कर रहे हैं जमकर प्रैक्टिस, देखें VIDEO

केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन में सार्वजनिक परिवहन का कोई साधन नहीं चलेगा और दिल्ली की सीमाओं को सील कर दिया जाएगा लेकिन स्वास्थ्य, खानपान, जल और विद्युत आपूर्ति आदि से संबंधित आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी. Also Read - Covid-19: लोगों पर रासायनिक घोल का छिड़काव, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- कड़ी कार्रवाई होगी

उन्होंने यह भी बताया कि दुग्ध उत्पाद की दुकानें, किराना दुकानें, दवा की दुकानें और पेट्रोल पंप खुले रहेंगे, वहीं जरूरी सेवाओं से जुड़े सभी लोगों को इस दौरान आवागमन की अनुमति दी जाएगी.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमें पता है कि लोगों को कठिनाइयां आएंगी लेकिन कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन जरूरी है.’’ उन्होंने यह भी बताया कि दिल्ली में कोविड-19 के कुल मामलों में से छह स्थानीय स्तर पर संक्रमण के हैं.

दिल्ली में 31 मार्च तक धारा 144, उल्लंघन पर होगी कठोर कार्यवाही

इससे पहले दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने विशेषाधिकारों का इस्तेमाल करते हुए राष्ट्रीय राजधानी में तत्काल प्रभाव से धारा 144 लागू कर दी है. यह कदम कोरोना जैसी महामारी को बे-दम करने के मद्देनजर उठाया गया है. ताकि धारा 144 लगी रहने तक दिल्ली के किसी भी इलाके में अनावश्यक भीड़ भाड़ न बढ़ सके. रविवार को आईएएनएस को यह जानकारी पुलिस कमिश्नर के स्टाफ ऑफिसर डीसीपी विक्रम के. पोरवाल ने दी.

उन्होंने आगे कहा, “पुलिस आयुक्त द्वारा जारी आदेश की अधिकृत जानकारी तमाम संबंधित एजेंसियों को दे दी गई है. क्योंकि धारा-144 अमल में लाने के लिए पब्लिक सहित इन तमाम एजेंसियों के भी संयुक्त सहयोग और प्रयासों की जरूरत होती है. विशेषकर तब जब कोरोना जैसी भयावह त्रासदी से दुनिया पीड़ित हो.”

पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव द्वारा जारी इस आदेश की लिखित सूचना खुफिया विभाग के उप-निदेशक से लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय, तमाम सचिवालयों, दिल्ली पुलिस, दिल्ली के उप राज्यपाल के यहां भी भेजी गयी है. साथ ही दिल्ली में साप्ताहिक बाजार पर नियंत्रण रखने वाली एजेंसियों को बता दिया गया है कि इस आदेश को सख्ती से अमल में लाएं. अगर कहीं कोई अधिकारी कर्मचारी लापरवाही बरतता पाया गया, तो उसके खिलाफ तत्काल कठोर कदम उठाए जाएंगे.