नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को पानी के अब तक के बकाए बिल को माफ करने की घोषणा की. इस घोषणा से उन करीब 13 लाख लोगों को लाभ मिलेगा, जिनके घर में फंक्शनल मीटर लगे हैं. वाणिज्यिक कनेक्शन वाले उपभोक्ता इस वित्तवर्ष के 31 मार्च तक बिलों की मूल राशि का भुगतान करके 100 फीसदी छूट प्राप्त कर सकते हैं.

इस योजना के तहत घरेलू उपभोक्ताओं को मूल बिल राशि पर 25 से 100 फीसदी छूट मिलेगी. देर से भुगतान सरचार्ज (अधिभार)को सभी घरेलू ‘ए’ से ‘एच’ श्रेणी के उपभोक्ताओं के लिए माफ कर दिया गया है. दिल्ली में गृह कर के आधार पर कॉलोनियों की आठ (ए-एच) श्रेणियां है. विवरण साझा करते हुए केजरीवाल ने कहा कि ई, एफ, जी व एच श्रेणी के कॉलोनियों के निवासियों के सभी मुख्य व लेट सरचार्ज को माफ किया जाएगा. ए व बी श्रेणी के लिए 25 फीसदी व सी श्रेणी के लिए 50 फीसदी और डी श्रेणी के लिए 75 फीसदी मुख्य राशि को माफ किया जाएगा. दिल्ली में ई से एच श्रेणी में 17, 69,981 उपभोक्ता हैं, ए से बी श्रेणी में 70,082, सी श्रेणी में 76,425 व डी श्रेणी में 3,44, 271 उपभोक्ता हैं. केजरीवाल ने कहा, “देर से भुगतान शुल्क पर 100 फीसदी छूट है, हालांकि यह सभी श्रेणियों में लागू है.”

IIT-Mumbai से ग्रैजुएट युवक ने ज्‍वाइन की रेलवे की 4th क्‍लास की नौकरी

30 नवंबर तक घरेलू मीटर लगवाने वाले लोगों के देर से भुगतान सरचार्ज को माफ किया जा सकता है. केजरीवाल ने कहा कि इनमें से कुछ बकाया उपभोक्ताओं के कारण हैं, और कुछ दिल्ली जल बोर्ड के गलत बिलिंग प्रणाली के कारण है. उन्होंने कहा, “हमारे बिलिंग प्रणाली में बहुत सी खामियां हैं. कुछ लोगों को कई महीनों तक बिल नहीं मिलता जबकि अन्य लोगों को ज्यादा बिल प्राप्त होता है.” मुख्यमंत्री ने कहा, “यह दिल्ली के लोगों को मुख्यधारा में शामिल होने और पानी के मीटर लगाने के लिए एक खुला निमंत्रण है. इस योजना का लाभ 30 नवंबर से पहले मीटर लगवाने वाले उपभोक्ताओं को ही मिलेगा.”