Delhi Oxygen Crisis: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को अन्य राज्यों के अपने समकक्षों को पत्र लिखकर राष्ट्रीय राजधानी को ऑक्सीजन की आपूर्ति किए जाने का अनुरोध किया. साथ ही कहा कि कोविड-19 का प्रकोप ऐसा है कि सभी उपलब्ध संसाधन अपर्याप्त साबित हो रहे हैं. दिल्ली के जयपुर गोल्डन अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते 20 मरीजों की मौत होने के बाद केजरीवाल ने ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए अनुरोध किया है. कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच राष्ट्रीय राजधानी के अस्पतालों को ऑक्सीजन की कमी का सामना करना पड़ रहा है.Also Read - दिल्ली: दो लोगों के बीच बहस में बचाव करना पड़ा भारी, एक शख्स की गोली मारकर हत्या, भाई घायल

केजरीवाल ने शाम को ट्वीट कर कहा, ‘ मैं सभी राज्यों के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर आग्रह कर रहा हूं कि यदि उनके पास अतिरिक्त ऑक्सीजन है तो उसे उपलब्ध कराएं. हालांकि, केंद्र सरकार भी हमारी सहायता कर रही है लेकिन कोविड-19 का प्रकोप ऐसा है कि उपलब्ध संसाधन अपर्याप्त साबित हो रहे हैं.’ अधिकारियों ने बताया कि ऑक्सीजन की आपूर्ति का इंतजार करने के दौरान जयपुर गोल्डन अस्पताल में मरीजों की मौत हो गई. Also Read - एक्सीडेंटल गाड़ियों के नंबर को चोरी की कार पर लगाकर बेचते थे, पुलिस ने पकड़ा जब गिरोह तो हुए चौंकाने वाले और भी खुलासे

दिल्ली के अस्पतालों ने ऑक्सीजन के गहराते संकट के बीच मदद की गुहार लगाई Also Read - इस वीकएंड घूमिये दिल्ली की ये मार्केट और करिये जमकर शॉपिंग, यहां सस्ते मिलते हैं कपड़े

कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझने के दौरान देश में ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर गहराए अप्रत्याशित संकट के बीच दिल्ली के कुछ ‘बेबस’ अस्पताल मरीजों के रिश्तेदारों को सलाह दे रहे हैं कि वे उन्हें किसी दूसरे अस्पताल ले जाएं जबकि कई अन्य के पास ऑक्सीजन का संरक्षित (बेक-अप) भंडारण का इस्तेमाल करने के सिवाय कोई विकल्प नहीं बचा है. दिल्ली के एक अस्पताल के निदेशक नरीन सहगल को यह नहीं पता कि वह ऐसी स्थिति में अपने मरीजों की मदद कैसे करेंगे.

ऑक्सीजन की तत्काल आपूर्ति करने के लिए गुहार लगाते हुए मीरा बाग स्थित नीओ अस्पताल के नरीन सहगल ने कहा कि अस्पताल में 120 कोविड-19 के मरीज हैं और ऑक्सीजन सिर्फ दो घंटे की बची है. सहगल ने एक वीडियो संदेश में कहा, “ अस्पताल में कोविड के 60 मरीजों को ऑक्सीजन की बेहद जरूरत है. ” उन्होंने कहा, “ मुझे वाकई नहीं पता कि इस स्थिति में अपने मरीजों की कैसे मदद करूं. मैं सबसे मदद मांग रहा हूं लेकिन कुछ नहीं हो रहा है. कृपया मदद करें.”

फोर्टि्स अस्पताल (शालीमार बाग) फिलहाल संरक्षित ऑक्सीजन आपूर्ति पर चल रहा है और उसने प्रधानमंत्री, दिल्ली के मुख्यमंत्री और अन्य मंत्रियों से ‘तत्काल मदद’ करने का आग्रह किया है. सरोज सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल को पिछले 44 घंटे से ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हुई है और वह अब मरीजों के रिश्तेदारों को सलाह दे रहा है कि वे उन्हें किसी और अस्पताल में ले जाएं.

(इनपुट भाषा)