दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवास ने कहा कि केवल आम आदमी पार्टी (आप) ही गोवा में कैसिनो को रोक सकती है। गोवा के नागरिकों के नाम जारी एक वीडियो संदेश में केजरीवाल ने यह बात कही। उन्होंने साथ ही कहा कि राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का कोई वजूद नहीं है। Also Read - Schools Reopening News: सभी पक्षों की सहमति के बाद ही होगा स्कूल खोलने का निर्णय, सीएम ने कहा- बच्चों की सुरक्षा सर्वोपरि

गोवा के मतदाताओं के नाम अपने 17 मिनट के संदेश में केजरीवाल ने दिल्ली में उनकी सरकार द्वारा शुरू किए गए मोहल्ला क्लीनिक, सरकारी स्कूलों में सुधार और अन्य परियोजनाओं की उपलब्धियों का जिक्र किया और 2017 के राज्य विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी के लिए समर्थन मांगा। Also Read - Video: रणवीर सिंह के साथ गोवा एयरपोर्ट पर नजर आई दीपिका पादुकोण, जांच में 26 को होंगी शामिल

यूट्यूब पर जारी अपने संदेश में केजरीवाल ने कहा, “सभी लोग चाहते हैं कि गोवा में कैसिनो बंद हों। कांग्रेस और भाजपा यह काम नहीं कर सकतीं क्योंकि इनका कैसिनो लॉबी से तालमेल है। केवल आप कैसिनो रोक सकती है। यह गोवा की संस्कृति को तबाही से बचा सकती है।” Also Read - ड्रग्स केस में 'छपाक': दीपिका आज गोवा से लौटेंगी वापस, कल NCB के सवालों के चलेंगे बाण

केजरीवाल ने मतदाताओं से कांग्रेस की अनदेखी करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस चुनाव में कहीं नहीं है और उसे वोट देने का मतलब वोटों का बंटवारा करते हुए भाजपा को लाभ पहुंचाना होगा।

केजरीवाल ने कहा, “प्लीज, वोट न बंटने दें। कांग्रेस खत्म है। कांग्रेस दौड़ में नहीं है। अगर आप में से कुछ कांग्रेस को वोट देंगे और अन्य आप को, तो इससे वोट बंटेगा और भाजपा फिर सत्ता में आ जाएगी।”

आप के संयोजक केजरीवाल ने कहा कि भाजपा ने राज्य के साथ छल किया है। उन्होंने कहा, “सभी को आप को वोट देना चाहिए। और, जो लोग भाजपा को वोट देते हैं, उनसे मैं पूछना चाहता हूं कि क्या भाजपा ने आपको कुछ भी दिया है? क्या भाजपा ने मोहल्ला क्लीनिक दिया है? क्या भाजपा ने अच्छी शिक्षा व्यवस्था दी है? क्या भाजपा ने आपको सुशासन प्रणाली दी है?”

उन्होंने कहा, “भाजपा ने आपको केवल भ्रष्टाचार और संप्रदायिकता दिया है। इसलिए जो लोग भाजपा को वोट देते रहे हैं, वे उसे वोट न दें।”

केजरीवाल ने कहा, “गोवा में पांच साल के बाद अब सभी लोग कह रहे हैं कि हमें फिर से धोखा हुआ है। भाजपा, कांग्रेस की तुलना में दोगुनी भ्रष्ट निकली और पर्रिकर (रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर) ने लोगों के साथ विश्वासघात किया है।”