Delhi Assembly Elections 2020 दिल्ली में विधानसभा चुनाव प्रचार के बाद गृह मंत्री अमित शाह(Amit Shah) का एक अलग अंदाज ही दिखा. दिल्ली में शुक्रवार को तीन चुनावी सभाओं को संबोधित कर अमित शाह देर शाम पहुंचे यमुना विहार. यमुना विहार में अपनी अंतिम नुक्कड़ सभा को संबोधित करने के बाद अमित शाह भाजपा के सामान्य कार्यकता के घर भोजन करने पहुंच गए. उनके साथ दिल्ली भाजपा प्रेसिडेंट मनोज तिवारी भी थे. Also Read - अमित शाह ने चुनावी रैली में कहा- सरकार आई तो पुडुचेरी को बनाएंगे भारत का 'गहना', एक बार मौका तो मिले

अमित शाह को भोजन में दाल, रोटी और सब्जी परोसी गई. रात्रि भोजन का कार्यक्रम यमुना विहार के भाजपा प्रेसिडेंट के घर पर हुआ. यमुना विहार के एक भाजपा नेता के मुताबिक रात्रि भोजन का कार्यक्रम अंतिम समय में तय किया गया. इस दौरान अमित शाह और मनोज तिवारी के अलावा सिर्फ दो और नेता घर के अंदर मौजूद थे. Also Read - Balakot Air Strikes Anniversary: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और गृह मंत्री अमित शाह ने एयरफोर्स को किया सैल्‍यूट

अमित शाह का हमला, कहा- केजरीवाल, राहुल गांधी दे रहे हैं शाहीन बाग जैसी घटनाओं को हवा Also Read - WB Assembly Election: बंगाल चुनाव में एक और क्रिकेटर की एंट्री, मनोज तिवारी गए TMC में, तो अशोक डिंडा बने भाजपाई

गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष रहने के दौरान अमित शाह पार्टी के सामान्य कार्यकर्ता के घर भोजन करते रहे हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले जब अमित शाह को यूपी का प्रभारी का दायित्व सौंपा गया था, उस दौरान अमित शाह हर दिन कार्यकर्ताओं के घर भोजन करते रहे थे. इस दौरान अमित शाह के इस नजरिये को काफी सराहा गया था.

हालॉकि भाजपा और संघ में यह परंपरा पुरानी रही है. लेकिन दिल्ली चुनाव प्रचार के दौरान अमित शाह का आम कार्यकता के घर भोजन करने पहुंचना किसी अचंभे से कम नहीं है. माना जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह के इस कदम से जहां बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच उत्साह का संचार होगा, वहीं उनको जीत का मूल मंत्र मिल पाएगा.