नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार के मतदान के लिए दिल्ली पुलिस ने पूरी दिल्ली में सुरक्षा चाक चौबंद कर दी है. नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन का केंद्र बने शाहीन बाग में विशेष सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं. पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि चुनाव के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. शाहीन बाग में विशेष तौर से बीएसएफ (सीमा सुरक्षा बल) की टुकड़ी को तैनात किया गया है.

दक्षिण पूर्व दिल्ली के डीसीपी आर. पी. मीना ने कहा कि सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं और हम लोगों से अपील कर रहे हैं कि वे अधिक से अधिक संख्या में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करें. लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर निर्देश दिए गए हैं. मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो, इसे लेकर पुलिस ने व्यवस्था की है. नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध का केंद्र बन चुके शाहीन बाग में सुरक्षा के इंतजाम पर एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि चुनाव के मद्देनजर शाहीन बाग में नजर रखने के लिए पुलिस पेट्रोलिंग बाइकर्स तैनात किए गए हैं. यहां के पांच मतदान केंद्रों को संवेदनशील चिन्हित किया गया है. सीसीटीवी के माध्यम से भी निगरानी रखी जा रही है.

अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए क्विक रिएक्शन टीम व PCR वैन तैनात
किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए पुलिस ने क्विक रिएक्शन टीम और पीसीआर वैन तैनात किए हैं. साथ ही अतरिक्त बलों को भी तैनात किया गया है. अधिकारी ने कहा कि विधानसभा चुनाव के मद्देनजर समन्वय स्थापित करने को लेकर स्थानीय होमगार्ड और दूसरे जिलों की पुलिस की भी तैनाती की गई है. हरियाणा और उत्तर प्रदेश से लगती राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं को बंद करने का निर्देश देते हुए यहां पुलिस टीमों को तैनात किया गया है.

169 मतदान केंद्रों में से 64 केंद्रों को किया संवेदनशील चिन्हित
पुलिस अधिकारी ने कहा कि दक्षिण पूर्व जिले के 169 मतदान केंद्रों में से 64 केंद्रों को संवेदनशील चिन्हित किया गया है. जबकि जिले में 10 मोटरेबल बॉर्डर पिकेट हैं, जहां पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. आधी रात को सीमा बंद कर दी जाएगी. दक्षिण पूर्व जिले में पांच हजार से अधिक पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है. साथ ही अर्ध-सैनिक बलों की तैनाती की गई है.”