नई दिल्लीः दिल्ली (Delhi) के रानी झांसी रोड के पास स्थित अनाज मंडी इलाके के 3 घरों में लगी आग में अब तक 43 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं इस घटना में कई लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं, जिनमें से 15 की हालत नाजुक बताई जा रही है. इसके चलते अंदाजा लगाया जा रहा है कि अभी मृतकों की संख्या में और भी वृद्धि हो सकती है. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) सहित कई दिग्गज नेता इस अग्निकांड पर शोक व्यक्त कर चुके हैं. इसके साथ ही भाजपा ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख मुआवजा देने की घोषणा की है.

वहीं घटना पर शोक व्यक्त करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi ) ने कहा कि, अपने प्रियजनों को खोने वालों के साथ मेरी संवेदनाए हैं. घायलों के जल्दी स्वस्थ होने की कामना. पीएम मोदी ने कहा कि अधिकारी मौके पर हर संभव मदद कर रहे हैं. वहीं गृहमंत्री अमित शाह ने भी अग्निकांड पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि, जिन परिवारों ने अपनों को खोया है उनके प्रति संवेदनाएं. उन्होंने कहा कि घायलों की जल्द स्वास्थय होने की कामना करता हूं. इसके साथ ही गृहमंत्री ने अधिकारियों को तत्काल हर संभव मदद देने के निर्देश भी दिए हैं.

दिल्ली आग हादसाः 43 लोगों की मौत, पीएम मोदी और सीएम केजरीवाल ने घटना में जताया शोक

घटना की जानकारी मिलने पर दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी (Manoj Tiwari), अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) और केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी मौके पर पहुंचे और घटना के संबंध में जानकारी ली. बता दें पुरानी दिल्ली की अनाज मंडी इलाके में रविवार को भीषण आग लगने की घटना में अब तक 43 लोगों के मारे जाने की खबर है. यह इलाका पुरानी दिल्ली के रानी झांसी रोड स्थित फिल्मिस्तान सिनेमा के पास है. इस आग में अभी तक 52 लोगों को बचाया जा चुका है.

बताया जा रहा है कि यह आग आज सुबह करीब 05.30 बजे तीन घरों में लगी, यहां गत्ते और कागज की अवैध फैक्ट्री चल रही थी. जिस वजह से आग फैली और उसने तीन घरों की दो मंजिलों को अपनी चपेट में ले लिया.