Delhi violence: दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बुधवार को विधानसभा में घोषणा की कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा में मारे गए हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के परिवार को दिल्ली सरकार एक करोड़ रुपए का मुआवजा देगी. केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में कहा, ”दिल्ली सरकार की नीति के अनुसार हम हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल के परिवार को एक करोड़ रुपए का मुआवजा देंगे.” Also Read - Delhi: CM Kejriwal ने माता-पिता के साथ ली कोरोना वैक्सीन, LNJP हॉस्पिटल में कराया टीकाकरण

मुख्यमंत्री ने मंगलवार हेड कॉन्स्टेबल के परिवार से मुलाकात की थी. केजरीवाल ने कहा, ”घृणा और हिंसा की राजनीति बर्दाश्त नहीं की जाएगी. दिल्ली का आम आदमी हिंसा में शामिल नहीं है, इसमें बाहरी लोग, कुछ राजनीतिक तत्व शामिल हैं.” Also Read - इंजीनियरिंग की, मिस इंडिया दिल्ली बनीं, अब पॉलिटिक्स करेंगी 21 साल की ये मॉडल, अरविंद केजरीवाल की...

सीएम केजरीवाल ने आईबी के कर्मचारी की मौत पर जताया शोक
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को आईबी के एक कर्मचारी की मौत पर शोक प्रकट किया. खुफिया ब्यूरो के कर्मचारी का शव उत्तर पूर्वी दिल्ली के दंगा प्रभावित चांद बाग इलाके में मिला. अधिकारियों ने बताया कि खुफिया ब्यूरो के कर्मचारी अंकित शर्मा की मौत शायद पथराव से हुई. अंत्यपरीक्षण के लिए उनके शव को गुरु तेग बहादुर अस्पताल ले जाया गया.

प्रार्थना है कि हम जल्द इस त्रासदी से उबर जाएं
मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, ”जान का नुकसान दुखद है. दोषी बख्शे नहीं जाएंगे. अब तक 20 लोगों की जान जा चुकी है. दिल्ली के लोगों की पीड़ा देखना दुखदायी है.” उन्होंने कहा, ”प्रार्थना है कि हम जल्द इस त्रासदी से उबर जाएं और लोगों तथा समुदायों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए साथ मिलकर काम करें.”