Delhi-Gurugram Border jaam Latest News: किसानों के उग्र प्रदर्शन के कारण उत्तर भारत के कई राज्यों की यातायात व्यवस्था बुरी तरह से अव्यवस्थित हो गई है. नए किसान बिल के विरोध में लाखों किसान दिल्ली की तरफ बढ़ रहे हैं जिससे सीमाओं पर सुरक्षा कड़ी कर दी है. किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ऐहतियात के तौर पर सघन चेकिंग भी कर ही है. तलाशी अभियान का असर शुक्रवार सुबह दिल्ली गुरुग्राम बार्डर पर भी देखने को मिला. किसानों के प्रदर्शन और सघन चेकिंग के चलते शुक्रवार को काफी लंबा जाम लगा रहा जिससे सुबह ऑफिस आने जाने वालों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.Also Read - मध्य प्रदेश में हर दिन लापता हुईं 24 लड़कियां, 2021 में किस राज्य में कितने बच्चे हुए लापता, जानें

आज आपको हरियाणा और उत्तर प्रदेश से राष्ट्रीय राजधानी जाने वाले कई मार्गों पर भारी यातायात जाम का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब के किसानों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च के मद्देनजर बृहस्पतिवार को दिल्ली पुलिस ने वाहन जांच तेज कर दी. आज पंजाब के किसानों का मार्च पांच राजमार्गों के माध्यम से दिल्ली पहुंचने वाला है. Also Read - JNU Rape Case: जेएनयू में MCA की छात्रा से दुष्कर्म का आरोप, नौकरी मांगने के बहाने करता था बात

Also Read - दिल्ली के झंडेवालान साइकिल बाजार में लगी भीषण आग, दमकल की 27 गाड़ियां मौके पर

दिल्ली से लगभग 215 किलोमीटर दूर हरियाणा में शंभू सीमा पर बृहस्पतिवार को तनाव बढ़ गया, क्योंकि पंजाब से आने वाले सैकड़ों किसानों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार और आंसू गैस का इस्तेमाल किया, जबकि कई किसानों ने हरियाणा में प्रवेश करने के लिए बैरिकेड को तोड़ दिया, जिनमें से कुछ को नदी में फेंक दिया.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि विरोध मार्च के मद्देनजर एहतियात के तौर पर हरियाणा के साथ लगने वाली फरीदाबाद, सिंघु और गुड़गांव सीमा क्रॉसिंग पर सुरक्षा बलों की भारी तैनाती की गई है और वाहन जांच तेज कर दी गई है.

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के साथ डीएनडी और राष्ट्रीय राजमार्ग-24 क्रॉसिंग पर भी वाहनों की जाँच की जा रही है. उन्होंने बताया कि सीमाओं को सील नहीं किया गया है, लेकिन प्रदर्शनकारियों के ट्रकों और ट्रैक्टरों को रोकने के लिए बैरिकेड और सीमेंट ब्लॉक लगाए गए हैं. हरियाणा और उत्तर प्रदेश से राष्ट्रीय राजधानी आने वाले कई यात्रियों ने वाहन जांच के कारण यातायात जाम की शिकायत की.

दिल्ली पुलिस के जवान बड़ी संख्या में अंतरराज्यीय सीमाओं पर तैनात हैं, क्योंकि पंजाब के 30 से अधिक कृषि संगठनों ने घोषणा की है कि वे लालरू, शंभू, पटियाला-पिहोवा, पटरान-खनौरी, मूनक-टोहाना, रतिया-फतेहाबाद और तलवंडी-सिरसा सहित कई मार्गों से दिल्ली पहुंचेंगे.