नई दिल्लीः केंद्र सरकार के अधीन संचालित प्रतिष्ठित अस्पताल राममनोहर लोहिया की एक 52 वर्षीय सीनियर डॉक्टर ने यहां नोर्थ एवेन्यू स्थित अपने आवास पर बुधवार को फांसी लगाकर कथित रुप से खुदकुशी कर ली. पुलिस के अनुसार उनकी पहचान राममनोहर लोहिया अस्पताल की कंसलटेंट रेडियोलोजिस्ट पूनम वोहरा के रुप में हुई है. मौके से एक सुसाइड नोट मिला है. इसके मुताबिक वोहरा को उनके तीन सहयोगी प्रताड़ित कर रहे थे. पुलिस ने बताया कि सुसाइड नोट में इन तीनों सहयोगी डॉक्टरों के नाम हैं. उनसे जांच में सहयोग करने को कहा गया है. वैसे पुलिस ने बुधवार देर रात तक आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज नहीं किया था. पुलिस के मुताबिक डॉक्टर वोहरा, इन तीनों साथी डॉक्टरों के खिलाफ एक मामले में अनुशासनात्कम कार्रवाई के लिए जांच कर रही थीं.

नोर्थ एवेन्यू पुलिस को बुधवार दोपहर एक बजे इसकी खबर मिली जिसके बाद वह मौके पर पहुंची. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार जांच में सामने आया है कि वोहरा छुट्टी पर थीं. उनके पति और दो बच्चे घटना के समय घर पर नहीं थे. फ्लैट अंदर से बंद था. जब परिवार के सदस्य घर पहुंचे और डॉ. वोहरा ने दरवाजा नहीं खोला तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी. पुलिस दरवाजा तोड़कर घर में घुसी तो डॉ. वोहरा का शव फंखे से लटका मिला. पुलिस अधिकारी के अनुसार कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी गई है. आज यानी बृहस्पतिवार को पोस्टमार्टम किया जा रहा है.