नई दिल्ली| देश में एक बार फिर अनजाने डर की गहशत फैली हुई है और अफवाहों का माहौल गर्म है. दरअसल, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में कुछ ऐसे मामले सामने आए हैं जहां महिलाओं ने दावा किया है कि किसी अनजान साय या शख्स ने उनकी चोटी काट ली. ख़बरों के मुताबिक अकेले हरियाणा में ऐसे 17 मामले सामने आ चुके हैं. वहीं उत्तर प्रदेश में 5 और दिल्ली में 3 मामले सामने आने का दावा किया जा रहा है. इन राज्यों की पुलिस और प्रशासन अब तक चोटी काटे जाने की घटनाओं की जड़ तक नहीं पहुंच पाई है.

गुरुग्राम की देवीलाल कॉलोनी के लोगों के मुताबिक, पिछले दो दिनों में चोटी काटने की पांच घटनाएं हो चुकी हैं. यहां की महिलाओं में इतना खौफ पैदा हो गया है कि वो रात में सिर पर कपड़ा बांधकर सो रही हैं. इलाके के लोग खुद पहरा दे रहे हैं. वहीं पुसिल लोगों से अफवाहों से दूर रहने की अपील कर रही है. हरियाणा के फतेहाबाद जिले में महिलाओं का दावा है कि एक साए ने इनके बाल काट दिए. इलाके के लोगों का दावा है कि यहां अब तक चोटी और बाल काटने की 8 से ज्यादा घटनाएं हो चुकी हैं. एबीपी न्यूज के मुताबिक, फतेहाबाद के डीजी ने कहा है कि जो भी चोटी काटने वाले शख्स के बारे में जानकारी देगा उसे 15 अगस्त को सम्मानित किया जाएगा.

घर के बाहर लटकाए गए नींबू, प्याज और नीम

कई जगहों पर इन घटनाओं को अलौकिक शक्ति के साथ जोड़कर भी देख रहे हैं. खासतौर पर छोटे गांव और कस्बों में ऐसा माना जा रहा है कि ये सब कोई साया कर रहा है. इस वजह से घर के बाहर नींबू, प्याज और नीम जैसी चीज़ें लटकाई जा रही हैं. उत्तर प्रदेश में मथुरा के नगला शीशराम गांव में लोगों ने घर के दरवाजे पर प्याज लटकाई हुई है. एबीपी के मुताबिक, इस गांव में प्रेमवती नाम की एक बुजुर्ग महिला की भी चोटी काट ली गई. उसके परिवार वालों ने तांत्रिक को घर पर बुलाया और उसके कहने पर ही घर के बाहर प्याज लटकाई. वहीं, हरियाणा बॉर्डर के पास दिल्ली के कांगनहेड़ी गांव में घरों के बाहर नींबू और नीम की पत्तियां लटकाईं गई हैं.

पहले सिर में दर्द, चक्कर और बेहोशी फिर कट जाती है चोटी

जिन महिलाओं ने चोटी काटने का दावा किया है उनमें से ज्यादातर का कहना है कि वारदात से पहले उनके सिर में बहुत तेज दर्द हुआ था. अचानक सिर में दर्द उठा, चक्कर आए, बेहोशी हुई और होश में आने पर देखा कि चोटी कटी हुई है. दिल्ली के कगनहेरी गांव में विमलेश और मनोज की मां की चोटी काटी गई है. विमलेश ने बताया कि रविवार सुबह उनकी मां सिर में अचानक से दर्द शुरू हुआ और लेट गई. जब उनकी नींद खुली तो देखा कि बिस्तर के नीचे चोटी कटी हुई थी. खास बात यह है कि कगनहेरी गांव में तीन महिलाओं की चोटी कटी है और सभी की उम्र 50 के पार है. पुलिस गांव में सुरक्षा बढ़ा दी है. पूरे गांव में सीसीटीवी कैमरे लगा दिए गए हैं.