दिल्ली स्थित  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) एक बार फिर मीडिया की सुर्खियों में है। जानकारी के मुताबिक जएनयू के हॉस्टल में एक छात्र का शव मिला है।

पुलिस के मुताबिक ब्रह्मपुत्र हॉस्टल में रहने वाले पीएचडी छात्र जेआर फिलेमॉन को 3 दिनों से किसी ने नहीं देखा था। मणिपुर के रहने वाले छात्र के कमरे से दुर्गंध आने पर दरवाजा खोला गया तो अन्दर का नज़ारा देख सब हक्का-बक्का रह गए।

जेएनयू के ब्रह्मपुत्र हॉस्टल के कमरे से मंगलवार को पूर्वोत्तर के एक छात्र का शव मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस के मुताबिक ये छात्र तीन दिन से हॉस्टल में नहीं दिख रहा था। मृतक का नाम जे आर फिलेमॉन राजा है। यह भी पढ़ें: JNU में फिर जंग, लापता छात्र नजीब अहमद की तलाश में छात्रो का आंदोलन VC को बनाया बंधक

जानकारी के मुताबिक फिलेमॉन पीएचडी का छात्र है और मणिपुर का रहने वाला है। वो ब्रह्मपुत्र हॉस्टल के कमरा नंबर 171 में रहता था। कमरा 3 दिन से बन्द था। जब अन्य छात्रों को दुर्गंध आई तो दरवाजे को खोला गया और अंदर फिलेमॉन की लाश पड़ी थी।

ब्रह्मपुत्र होस्टल में ही रहने वाले छात्र और एबीवीपी के अध्यक्ष आलोक के मुताबिक फिलेमॉन कुछ दिनों से दिखा नही था। कुछ दिन पहले उसकी तबियत भी खराब थी। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमाटर्म के लिए भेज दिया है और मामले की जांच में जुट गई है।