Delhi Meerut Expressway: देश में कोरोन वायरस का खतरा दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है. ऐसे में देश में सभी काम ठप्प पड़े हुए हैं सिवाय निर्माण कार्य के. इस निर्माण कार्य का सीधा जुड़ाव केंद्रीय सड़क एव परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से है. नितिन गडकरी ने बीते दिनों वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कहा था कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के बीच भी निर्माण कार्य जारी रहेंगे. बता दें कि अगर यह निर्माण कार्य लगातार जारी रहा तो दिल्लीवासियों और यूपी के निवासियों के लिए दिसंबर के अंत तक खुशखबरी मिल सकती है. जी हां, नितिन गडकरी का कहना है कि अगर दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे (Delhi Meerut Expressway) का काम फिलहाल जैसा ही चलता रहा तो दिसंबर के अंत तक इस काम को खत्म कर लिया जाएगा व दिल्ली के यूपी से बेहतर तरीके से जोड़ लिया जाएगा. बता दें कि इस सड़क के बनने के बाद आप मात्र 40 मिनट में ही दिल्ली से मेरठ पहुंच सकते हैं. Also Read - Video: दिल्‍ली के CM केजरीवाल ने कोरोना मरीजों को भर्ती नहीं कर रहे अस्‍पतालों को दी चेतावनी

बता दें कि यह सड़क दिल्ली एनसीआर के लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होने वाला है. इस सड़क के निर्माण के साथ ही लोगों को परिवहन में आ रही समस्याओं व देरी का सामना नहीं करना होगा. इस हाइवे के जरिए मात्र 40 मिनट में मेरठ की दूरी को तय किया जा सकता है. बता दें कि फिलहाल सामान्य रूट से मेरठ जाने में डेढ़ से 2 घंटे तक का समय लग जाता है. यही कारण है कि इस हाइवे का निर्माण किया जा रहा है ताकि दिल्ली एनसीआर के लोगों को इससे छुटकारा दिलाया जा सके. Also Read - दिल्ली में कोरोना संक्रमण से मुक्त होने की दर घटी, पिछले 10 दिनों के आंकड़ों में हुआ खुलासा

इस हाइवे के बन जाने के बाद लंबी दूरी यात्राओं को भी जल्दी पूरी की जा सकेगी. साथ ही रोजाना काम काज के चक्कर में दिल्ली से मेरठ आने जाने वाले लोगों को हर रोज इसका फायदा मिलेगा व उनका काफी समय बचेगा. बता दें कि दिल्ली में इस इलाके के रहने वाले हजारों लोग हैं. कई लोग वीक ऑफ्स के दिन अपने घरों की ओर निकलते हैं वहीं कई लोग हर दिन आना जाना करते हैं. इस कारण इस हाइवे का सीधा फायदा उन हजारों लोगों को मिल सकेगा. जिनका लगातार इस रूट पर आना जाना लगा रहता है. Also Read - बड़ा खुलासा: देश में एक ही IMEI नंबर के 13 हजार से अधिक मोबाइल फोन सक्रिय