नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो रेल (Delhi Metro Rail) की सुरक्षा में तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के जवानों ने कारतूसों के साथ एक महिला को गिरफ्तार कर लिया. महिला को मध्य दिल्ली जिले के जामा मस्जिद इलाके की मेट्रो स्टेशन पर पकड़ा गया. महिला के कब्जे से दो कारसूत मिले हैं. दिल्ली में मेट्रो रेल शुरू होने के बाद से यह पहला मौका है जब, किसी महिला को मेट्रो स्टेशन पर कारतूसों के साथ गिरफ्तार किया गया है.

सोमवार को यह जानकारी दिल्ली पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता ने दी. उन्होंने बताया, “गिरफ्तार महिला की उम्र 45 साल है. उसके कब्जे से 315 बोर के दो कारतूस मिले हैं. महिला मूलत: शिओरा जिला अलीगढ़ उत्तर प्रदेश की रहने वाली है.” शुरुआती पूछता में महिला ने सीआईएसएफ को बताया, “उसके रिश्तेदार के पास वैध हथियार का लाइसेंस है. कुछ दिन पहले वो रिश्तेदार उसके (महिला) घर आया. जहां वो अपने दो कारतूस भूल गया था. सोमवार को नोएडा के एक अस्पताल में महिला के भतीजे (जेठ का बेटा) की मौत हो गई. हड़बड़ाहट में भूलवश महिला कारसूत वाला बैग लेकर ही अस्पताल को निकल पड़ी.”

पीएम मोदी से मासूम सवाल पूछ चर्चा में आई ये लड़की, मेडिसिन में बनाना चाहती है करियर

महिला को मेट्रो से ही नोएडा पहुंचना था. महिला ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसे यह ध्यान ही नहीं रहा कि उसके हाथ में मौजूद थैले में कारतूस रखे हैं. जब सीआईएसएफ की स्कैनर मशीन ने कारतूस पकड़े, तब महिला को जल्दबाजी और अनजाने में हुई गलती का अहसास हुआ. आगे की जांच के लिए महिला को सीआईएसएफ की टीम ने दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया.

बड़े रैकेट का भंडाफोड़: 60 से अधिक पिस्तौल के साथ तस्कर अरेस्ट, पुलिस ने शमशान घाट से पकड़ा

दिल्ली पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक, महिला के खिलाफ शस्त्र अधिनियम के तहत आपराधिक मामला दर्ज कर लिया गया है. जानकारी के मुताबिक, अब तक मेट्रो से यात्रा करने वाले कुछ संदिग्ध यात्रियों से हथियार-नकदी तो बरामद होती रही थी, मगर उसमें पुरुषों की ही भूमिका पाई जाती रही है. जब से दिल्ली में मेट्रो रेल सेवा शुरू हुई तब से, यह पहला मौका है जब किसी महिला को मेट्रो स्टेशन पर कारतूसों के साथ गिरफ्तार किया गया हो.