नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दो संदिग्ध आतंकियों को रात में लाल किले के पास से गिरफ्तार किया है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि कश्मीर के रहने वाले दोनों संदिग्धों को बृहस्पतिवार और शुक्रवार की दरम्यानी रात को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से 10 कारतूस और 4 मोबाइल फोन जब्त हुए हैं. उन्हें ये हथियार यूपी से मिले थे.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इन दोनों आतंकियों को कोर्ट के समक्ष पेश किया, जहां से कोर्ट ने उन्हें पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है.

दिल्ली पुलिस के डीसीपी ने बताया कि बीती रात को पुलिस की स्पेशल सेल लाल किले के पास जामा मस्जिद बस स्टॉप के पास से दो आतंकियों को अरेस्ट किया है. इनके पास से 10 कारतूस और 4 मोबाइल फोन जब्त हुए हैं. उन्हें ये हथियार यूपी से मिले थे और वे कश्मीर जा रहे थे. इन हथियारों का उपयोग आतंकवादी गतिविधियों में किया जाना था.

स्पेशल सेल के डीसीपी ने कहा, ” हमने परवेज और जमशेद को गिरफ्तार किया है. वे आतंकी संगठन आईएसजे के सदस्य हैं. परवेज के भाई को सुरक्षाबलों ने जनवरी में एक मुठभेड़ में मार गिराया था. वह मूलरूप से हिजबुल मुजाहिदीन का सदस्य था और बाद में आईएसजेके में शामिल हो गया था.

स्पेशल सेल के डीसीपी ने बताया कि दिल्ली उनके प्लान का हिस्सा था, वह यहां से सिर्फ गुजर रहे थे. पुलिस अफसर ने कहा कि उन्होंने हमें बताया कि आतंकी संगठन आईएसजेके का लीडर उमर इब्न नाजिर है और दो नंबर का लीडर आदिल ठोकर है. गिरफ्तार किए गए आतंकी आईएसजेके के नंबर दो के सरगरना आदिल के निर्देशों का पालन कर रहे थे.