नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने खालिस्तान आंदोलन के तीन संदिग्ध समर्थकों को गिरफ्तार किया है जो कथित रूप से उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में निशाना बनाकर हत्याओं को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि तीनों गिरफ्तार आरोपियों की पहचान दिल्ली निवासी मोहिंदर पाल सिंह (29), पंजाब निवासी गुरतेज सिंह (41) और हरियाणा निवासी लवप्रीत सिंह (21) के रूप में की गई है.Also Read - Republic Day Parade 2022: High Tech सुरक्षा के घेरे में दिल्ली | ज़मीन से आसमान तक रखी जा रही नजर

उन्होंने बताया कि आरोपियों से तीन पिस्तौल और सात कारतूस भी बरामद की गई है. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि उनके पास से तीन मोबाइल फोन भी बरामद किए गये हैं जिनमें खालिस्तान आंदोलन से जुड़े आपत्तिजनक वीडियो और तस्वीर मौजूद हैं. Also Read - Republic Day parade में शामिल होने वालों के लिए दिल्ली पुलिस ने जारी की गाइडलाइंस, इन नियमों का करना होगा पालन

पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) संजीव कुमार यादव ने बताया, ‘‘ पुलिस को खालिस्तान लिबरेशन फोर्स समर्थक मोहिंदर की गतिविधियों की खुफिया सूचना मिली थी. वह राष्ट्रीय राजधानी में आतंकवदी गतिविधि को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे. इसके मद्देनजर 15 जून को हस्तसाल में पुलिस ने जाल बिछाया और मोहिंदर को गिरफ्तार कर लिया.’’ Also Read - Republic Day Parade के लिए गाइडलाइंस जारी, शामिल होने के लिए यह सर्टिफिकेट जरूरी; 15 साल तक के बच्चों को नो एंट्री

यादव ने बताया, ‘‘ मोहिंदर से पूछताछ के आधार पर लवप्रीत को हरियाणा के कैथल से गिरफ्तार किया गया. बाद में इन दोनों को पुलिस पंजाब के मनसा ले गई जहां पर गुरतेज की गिरफ्तारी हुई.’’ उन्होंने बताया कि गिरफ्तार तीन आरोपियों ने खुलासा किया कि उनका खालिस्तान लिबरेशन फोर्स के विदेश में बैठे आकाओं से संबंध हैं.

पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने बताया कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई प्रायोजित खालिस्तानी आतंकवादियों के निर्देश पर वे हत्याओं को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे.