नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने खालिस्तान आंदोलन के तीन संदिग्ध समर्थकों को गिरफ्तार किया है जो कथित रूप से उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में निशाना बनाकर हत्याओं को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि तीनों गिरफ्तार आरोपियों की पहचान दिल्ली निवासी मोहिंदर पाल सिंह (29), पंजाब निवासी गुरतेज सिंह (41) और हरियाणा निवासी लवप्रीत सिंह (21) के रूप में की गई है. Also Read - WhatsApp यूजर्स दें ध्यान, एक छोटी सी गलती से हो सकता है बड़ा नुकसान, अकाउंट से जुड़ा है मामला

उन्होंने बताया कि आरोपियों से तीन पिस्तौल और सात कारतूस भी बरामद की गई है. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि उनके पास से तीन मोबाइल फोन भी बरामद किए गये हैं जिनमें खालिस्तान आंदोलन से जुड़े आपत्तिजनक वीडियो और तस्वीर मौजूद हैं. Also Read - जमानत मिलने के बावजूद जेल में ही रहेंगे निलंबित पुलिस अधिकारी दविंदर सिंह, NIA ने कहा- जल्द दाखिल होगी चार्जशीट

पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) संजीव कुमार यादव ने बताया, ‘‘ पुलिस को खालिस्तान लिबरेशन फोर्स समर्थक मोहिंदर की गतिविधियों की खुफिया सूचना मिली थी. वह राष्ट्रीय राजधानी में आतंकवदी गतिविधि को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे. इसके मद्देनजर 15 जून को हस्तसाल में पुलिस ने जाल बिछाया और मोहिंदर को गिरफ्तार कर लिया.’’ Also Read - बुकी संजीव चावला का खुलासा, सभी मैच होते हैं फिक्‍स, इसमें अंडरवर्ल्‍ड की सीधी भूमिका

यादव ने बताया, ‘‘ मोहिंदर से पूछताछ के आधार पर लवप्रीत को हरियाणा के कैथल से गिरफ्तार किया गया. बाद में इन दोनों को पुलिस पंजाब के मनसा ले गई जहां पर गुरतेज की गिरफ्तारी हुई.’’ उन्होंने बताया कि गिरफ्तार तीन आरोपियों ने खुलासा किया कि उनका खालिस्तान लिबरेशन फोर्स के विदेश में बैठे आकाओं से संबंध हैं.

पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने बताया कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई प्रायोजित खालिस्तानी आतंकवादियों के निर्देश पर वे हत्याओं को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे.