नई दिल्लीः वकीलों के साथ झड़प के दौरान पुलिसकर्मियों पर हुए हमले के विरोध में मंगलवार को सैकड़ों पुलिसकर्मियों ने यहां पुलिस मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन किया. पुलिस कर्मियों का गुस्सा तब और बढ़ गया जब वकीलों द्वारा एक पुलिसकर्मी की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ. मंगलवार को प्रदर्शन के दौरान पुलिसकर्मियों ने तख्तियां ले रखी थीं जिन पर लिखा था, ‘‘पुलिस वर्दी में हम इंसान हैं’’ और ‘‘रक्षा करने वालों को सुरक्षा की जरूरत’’.

प्रदर्शनकारी पुलिसकर्मियों के बीच पहुंचे पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने कहा कि हमें अपने विरोध में यह ध्यान रखना होगा कि हम कानून न तोड़े. उन्होंने कहा कि विरोध करने का यह मतलब नहीं है कि हम कानून अपने हाथ में ले ले, कश्मिनर ने पुलिस कर्मियों से कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हमें न्याय जरूर मिलेगा.

दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने कहा की पुलिस वालों से मारपीट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी. इसके साथ ही पुलिस कमिश्नर ने पुलिसकर्मियों से काम पर लौट जाने की भी अपील की. बता दें प्रदर्शनकारी दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग रहे हैं.

पुलिसकर्मी आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय के बाहर जमा हुए और उन्होंने अपने वरिष्ठों से अनुरोध किया कि वर्दी का सम्मान बचाने की खातिर वे उनके साथ खड़े रहें. पुलिस उपायुक्त (नयी दिल्ली) ईश सिंघल ने प्रदर्शनकारी पुलिसकर्मियों को आश्वासन दिया कि उनकी समस्या पर ध्यान दिया जाएगा.

दिल्‍ली में वकील-पुलिस झड़प: पीएचक्‍यू के सामने वर्दी में डटे पुलिस जवान, प्रदर्शन और नारेबाजी की

सिंघल ने कहा, ‘‘आपकी चिंता और नाराजगी के बारे में वरिष्ठ अधिकारियों को बताया गया है. मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि यहां आपका प्रदर्शन बेकार नहीं जाएगा.’’ साकेत अदालत के बाहर सोमवार को वकीलों ने ड्यूटी पर तैनात एक पुलिसकर्मी की पिटाई कर दी थी.

घटना के एक वीडियो में, वकील बाइक पर सवार एक पुलिसकर्मी को पीटते हुए दिखाई दे रहे हैं. वकीलों में से एक को पुलिसकर्मी को थप्पड़ मारते भी देखा गया. जब पुलिसकर्मी घटनास्थल से जा रहे थे, तब वकील ने उसके हेलमेट को उसकी बाइक पर दे मारा. गौरतलब है कि शनिवार को यहां तीस हजारी अदालत परिसर में वकीलों और पुलिस के बीच झड़प हो गई थी. इस दौरान कम से कम 20 पुलिसकर्मी और कई वकील घायल हो गए थे. कई वाहनों में तोड़फोड़ की गई या उनमें आग लगा दी गई.