नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी दिल्ली के भजनपुरा इलाके में पैसे से सबंधित विवाद में तीन बच्चों समेत एक ही परिवार के पांच सदस्यों की हत्या करने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है. 30 हजार रुपए की उधारी को लेकर हुए विवाद के चलते यह पांच हत्‍याएं हुईं थी. यह मामला दिल्‍ली पुलिस ने दूसरे दिन सुलझा लिया है. Also Read - Centre vs Delhi Govt ON Vaccine: डिप्‍टी CM सिसोदिया बोले- दिल्‍ली में 100 वैक्‍सीनेशन सेंटर बंद करने पड़े

पुलिस ने यह जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी की पहचान प्रभु मिश्रा के रूप में हुई है. वह पीड़ित परिवार का रिश्तेदार है. Also Read - Rajasthan Crime News: पति को था शक-पत्नी का किसी और से चक्कर चल रहा, तलवार से टुकड़ों में काट डाला

पूर्वी रेंज के संयुक्त पुलिस कमिश्‍नर आलोक कुमार ने कहा, अभियुक्त 28 वर्षीय है और उसे दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है. उसने कहा है कि वह पैसे को लेकर मृतक के साथ झगड़ा कर रहा था, जिसके बाद उसने महिला और उसके बच्चों को लोहे की रॉड से मार दिया. बाद में, उसने महिला के पति को मार डाला. आगे की जांच जारी है. Also Read - Wrestler Murder Case: पहलवान सुशील कुमार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी, हत्या में नाम है शामिल

पुलिस ने बताया कि बुधवार सुबह रहस्यमय परिस्थितियों में एक ई-रिक्शा चालक, उसकी पत्नी और तीन बच्चों के शव भजनपुरा इलाके में उनके किराए के मकान में मिले थे.

मृतकों की पहचान शंभू चौधरी (43), उसकी पत्नी सुनीता (37) और उसके बच्चों शिवम (17), सचिन (14) और कोमल (12) के रूप में हुई. पुलिस ने कहा कि आरोपी मिश्रा ने चौधरी से 30 हजार रुपए उधार लिए थे. उसी पैसे से संबंधित विवाद के चलते ये हत्याएं हुईं.

बता दें कि 12 फरवरी को उत्तर पूर्वी दिल्ली के भजनपुरा इलाके में बुधवार सुबह एक ही परिवार के पांच सदस्य अपने घर में संदिग्ध अवस्था में मृत मिले थे. मृतकों की पहचान ई-रिक्शा चालक शंभू चौधरी (43) उनकी पत्नी सुनीता (37) बेटों शिवम (17), सचिन (14) तथा बेटी कोमल (12) के रूप में हुई थी. शंभू चौधरी बीते पांच महीने से किराए के मकान में रह रहा था. वह बिहार के सुपौल जिले का रहने वाला था.

पुलिस ने बताया था कि सुबह लगभग 11 बजकर 16 मिनट पर पड़ोसियों ने घर से बदबू आने की पुलिस में शिकायत की थी. पुलिस ने घर का दरवाजा तोड़ कर अंदर प्रवेश किया तो पांच लोगों के शव बरामद हुए थे.