नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नोटिस भेजकर उनसे मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कथित हमले के मामले में पेश होने को कहा है. इस घटनाक्रम पर तीखी प्रतिक्रिय व्यक्त करते हुए आप ने आरोप लगाया कि केजरीवाल को परेशान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली पुलिस का ‘दुरूपयोग’ कर रहे हैं. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि केजरीवाल को आज एक नोटिस भेजा गया और उनसे 18 मई सुबह 11 बजे पूछताछ में शामिल होने को कहा गया. ऐसी संभावना भी है कि पुलिस उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को भी जांच में शामिल होने के लिए कह सकती है. Also Read - किसानों की चेतावनी, दिल्ली में आने के सभी रास्ते ब्लॉक कर देंगे; पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा

आम आदमी पार्टी ने व्यक्त की तीखी प्रतिक्रिया
दिल्ली पुलिस के नोटिस पर तीखी प्रतिक्रिय व्यक्त करते हुए आप की दिल्ली इकाई के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा, ‘भारत में यह पहला मौका है जब किसी फर्जी मामले में किसी मुख्यमंत्री से पूछताछ की जा रही है. मोदी जी मुख्यमंत्री को परेशान करने के लिए पुलिस का दुरूपयोग कर रहे हैं, लेकिन लोग केजरीवाल के साथ हैं.’ पिछले महीने केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार से भी इस बाबत पूछताछ की गई थी. Also Read - Farmers Protest: 'दिल्ली चलो' एक महीने का राशन और पूरा रसोईघर लेकर विरोध करने निकले हैं किसान

11 विधायकों से पहले ही हो चुकी है पूछताछ
पुलिस उन 11 विधायकों से पहले ही पूछताछ कर चुकी है जो 19 फरवरी को मुख्यमंत्री के घर पर बैठक के दौरान मौजूद थे जिसमें प्रकाश पर कथित रूप से हमला किया गया था. बैठक में केजरीवाल के अलावा उनके पूर्व सलाहकार वीके जैन और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया भी मौजूद थे. इस बीच दिल्ली भाजपा ने आज उम्मीद जतायी कि केजरीवाल पुलिस की जांच में शामिल होंगे. दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता और भाजपा विधायक विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि प्रकाश पर हमले की ‘साजिश’ केजरीवाल के घर पर रची हुए थी. इसलिए इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि पुलिस उनसे पू्छताछ करेगी. Also Read - Farmers Delhi Chalo Protest Singhu border Live: किले में तब्दील हुई दिल्ली, सिंघु बॉर्डर पर पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले