नई दिल्लीः देश में कोरोना वायरस के चलते जारी लॉकडाउन के बीच साइबर क्राइम में खूब वृद्धि हुई है. आए दिन साइबर क्राइम के नए-नए मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच WhatsApp के जरिए भी फ्रॉड हो रहा है, जिसके जरिए लोगों के अकाउंट पर हाथ साफ किया जा रहा है. ऐसे में दिल्ली पुलिस ने भी WhatsApp फ्रॉड को लेकर लोगों को अलर्ट किया है और इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए होने वाले फ्रॉड को लेकर सावधान रहने के लिए कहा है. WhatsApp के हो रहे फ्रॉड में धोखेबाज यूजर्स की सारी जानकारी ले लेते हैं और फिर यूजर को लॉक कर देता है. WhatsApp हाईजैकिंग के जरिए फ्रॉड लोगों के अकाउटं पर भी हाथ साफ कर रहे हैं. Also Read - दिल्ली पुलिस के हांथ लगी बड़ी सफलता, ISI के इशारों पर काम रहे तीन खालिस्तानी समर्थकों को किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की साइबर क्राइम डिवीजन ने ट्वीट करते हुए लोगों को इससे सावधान रहने के लिए कहा है. साइबर क्राइम डिवीजन ने अपने ट्वीट में बताया है कि कैसे ये हैकर्स पहले लोगों का अकाउंट हैक करते हैं और फिर उन्हें लॉक कर देते हैं. इसके बाद वह यूजर से संबंधित व्यक्ति से बात करते हैं और उन्हें विश्वास दिलाते हैं कि ये वही हैं. इसके बाद वह उनसे उनके फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन से संबंधित जानकारी हासिल करते हैं और फिर बैंक अकाउंट भी हैक कर लेते हैं. ऐसे में लोगों को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ सकता है. Also Read - यूपी परिवहन की फर्जी वेबसाइट बनाई, वसूलता था नकली चालान, 10 हजार लोगों को ठगा...

हैकर्स पहले WhatsApp अकाउंट हाइजैक करते हैं. उसके बाद संबंधित दोस्त या परिवार के सदस्य से बात करते हैं और उनसे उनकी फाइनेशियल ट्रांजेक्शन, बैंक अकाउंट डीटेल मांगते हैं. यही नहीं धोखेबाज WhatsApp की टू लेयर ऑथेंटिकेशन को क्रेक करते हैं और यूजर्स के अकाउंट को भी लॉक कर देते हैं.

फ्रॉड डुप्लीकेट अकाउंट का इस्तेमाल करके वैरिफिकेशन पिन शेयर करने को कहता है और जैसे ही उसे पिन मिलता है, आपका अकाउंट हाइजैक हो जाता है. इसके बाद फ्रॉड OTP मांगता है. इसके बाद ये WhatsApp अकाउंट के जरिए स्मार्टफोन से निजी जानकारियां जुटा लेते हैं. जिससे बड़े नुकसान की आशंका बनी रहती है.