नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस साइबर सेल ने बुधवार को दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के प्रमुख जफरुल इस्लाम खान के घर पर छापा मारा. इस्लाम पर सोशल मीडिया पर देशद्रोह संबंधी कथित टिप्पणी के लिए मामला दर्ज किया गया है. एजेंसी के सूत्रों ने कहा, “टीम को इस्लाम के उस मोबाइल फोन की तलाश थी जिसे उसने सोशल मीडिया पोस्ट के लिए इस्तेमाल किया था.” Also Read - Wrestler Murder Case: पहलवान सुशील कुमार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी, हत्या में नाम है शामिल

इस्लाम की वकील वृंदा ग्रोवर ने आईएएनएस से कहा, “यह छापा मारा गया था और पुलिस टीम अब चली गई है. हमने उनसे कानून के मुताबिक कार्य करने को कहा है.” वृंदा ग्रोवर ने एक बयान में कहा, “आपको बताया जा चुका है कि डा. जफरुल इस्लाम 72 वर्षीय सीनियर सिटिजन हैं और उम्र संबंधी स्वास्थ्य समस्या से पीड़ित हैं जिससे उन पर कोविड-19 का ज्यादा खतरा है. ” Also Read - Oxygen Concentrator की कालाबाजारी मामले में नवनीत कालरा के खिलाफ लुकआउट नोटिस

उन्होंने एक बयान में कहा कि कानून के मुताबिक 65 साल से ऊपर के व्यक्ति से पूछताछ उनके घर पर ही की जा सकती है और उन्हें पुलिस स्टेशन आने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता है. खान ने 28 अप्रैल को एक फेसबुक पोस्ट में विवादित टिप्पणी की थी. इसके बाद दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने उसके खिलाफ मामला दर्ज किया था. Also Read - दिल्ली: ऑक्सीजन सिलिंडर के नाम पर चल रहा फायर एंस्टीग्यूशर बेचने का खेल, पुलिस ने दबोचे में 153 आरोपी