नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना हाटस्पॉट यानी कंटेनमेंट जोन की संख्या 100 हो गई है. बुधवार को शहर में कोरोनावायरस के 125 नए मामले सामने आए हैं, और इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना के कुल मामले 3439 हो गए हैं. अभी तक कोरोना के कारण यहां 56 लोगों की मृत्यु हो चुकी है. इनमें से दो रोगियों की मृत्यु बुधवार को हुई है. दिल्ली में कोरोना के 1092 रोगी अभी तक ठीक हो चुके हैं. इनमें से 14 रोगियों को बुधवार को अस्पताल से छुट्टी मिली है. शहर में कुल 2291 कोरोना के एक्टिव रोगी हैं. Also Read - Summer Vacation Begins in Delhi Schools: दिल्ली के स्कूलों में अब इस दिन से गर्मी की छुट्टियां

दिल्ली में बुधवार को कोरोना हॉटस्पॉट की संख्या 100 ही रही. मंगलवार को भी दिल्ली में 100 कोरोना हॉटस्पॉट थे. बुधवार को इसमें कोई नया हॉटस्पॉट नहीं जोड़ा गया. दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, जिन इलाकों को हम हॉटस्पॉट मानकर सील कर रहे हैं, वहां बाहर से किसी व्यक्ति को अंदर नहीं जाने दिया जाता. इसी तरह अंदर रह रहे व्यक्ति भी बाहर नहीं आ सकते. यहां रह रहे लोगों तक जरूरत के सारे सामान यहां तैनात पुलिसकर्मी व अन्य कर्मचारियों द्वारा पहुंचाए जा रहे हैं. Also Read - कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में टीकाकरण सबसे बड़ा हथियार: पीएम मोदी

इसके साथ ही दिल्ली में अब गली-मोहल्ले या कॉलोनी की दुकानों को खोलने की अनुमति होगी. ऐसी दुकानें जो किसी मॉल या शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के अंदर नहीं हैं, उन्हें खोलने की इजाजत दी जाएगी. दिल्ली सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश का पालन करते हुए यह फैसला किया है. Also Read - अब दिल्ली के किसी भी स्टेशन पर नहीं मिलेंगे प्लेटफॉर्म टिकट, जानिए क्यों लिया गया ये फैसला

हालांकि दिल्ली सरकार द्वारा कोरोना हॉटस्पॉट वाले कंटेनमेंट जोन में किसी तरह की व्यवसायिक गतिविधि की अनुमति नहीं होगी. इसके साथ ही दिल्ली में किसी भी बड़े बाजार में स्थित दुकानों को खोलने की इजाजत भी नहीं दी गई है. सरकार ने केवल रिहायशी इलाकों के आसपास स्थित एकल दुकानों को खोलने की अनुमति दी है.