नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने दो व्यक्तियों से उगाही के आरोप में तीन कांस्टेबलों को निलंबित किया है. आरोप है कि मादक पदार्थ के मामले में फंसाने की धमकी देकर कांस्टेबलों ने उगाही की है. अधिकारियों ने बताया कि निलंबित पुलिस कर्मी हेड कांस्टेबल, माखन लाल, कांस्टेबल राम अवतार और कांस्टेबल हरीश हैं. लाल और राम अवतार तो मोहन गार्डन थाने में तैनात हैं जबकि हरीश दिल्ली पुलिस की पश्चिमी जिले की नारकॉटिक विरोधी प्रकोष्ठ में तैनात है.

पुलिस ने बताया कि 25 नवंबर को, दो लोग पंजाब के मोहाली से आए थे और उन्होंने नजफगढ़ रोड पर अपनी कार खड़ी की थी. सादे वर्दी पहने हरीश ने उन्हें बताया कि वह अपराध शाखा से है और उनके बारे में पूछताछ की. उन्होंने बताया कि उसने उनकी कार की तलाशी भी ली. दो व्यक्तियों की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक, हरीश को कार में कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला और फिर उसने उनसे 9500 रुपये ऐठ लिए और मौके से जाने से पहले स्थानीय थाने को जानकारी दी.

इसके बाद मोहन गार्डन थाने से दो पुलिस कर्मी आए और वे उन्हें उनकी ही गाड़ी में अन्य स्थान पर ले गए और उनका उत्पीड़न किया. पुलिसकर्मियों ने शिकायतकर्ताओं की कार की चाबी भी छीन ली और वाहन की तलाशी ली. शिकायत के अनुसार उन्होंने मामले को 20,000 रुपये में निपटाने की बात कही. पुलिस ने बताया कि व्यक्तियों ने पैसा नहीं दिया और दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को घटना की सूचना दी. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि तीनों पुलिस कर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है तथा विभागीय जांच के भी आदेश दिए गए हैं.