नई दिल्‍ली: राजधानी दिल्‍ली सहित पूरे एनसीआर में महिला अपराध की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. गुरुग्राम जिले के फर्रुखनगर रेलवे स्टेशन से दिल्ली के श्यामा प्रसाद मुखर्जी कॉलेज में सोमवार को पेपर देने पहुंची छात्रा का किसी ने कथित रूप से अपरहण कर लिया. उसके बाद अपहरण करने वाले ने छात्रा के पिता को फोन कर धमकाया गया और बेटी को जान से मारने की धमकी दी. शिकायत लेकर छात्रा के पिता जब थाने गए तो कार्रवाई करने की बजाय पुलिस ने वारदात दिल्‍ली में बताते हुए मामले की शिकायत वहां करने को कहा. पुलिस के रवैये से नाराज परिवार के लोग ग्रामीणों के साथ पुलिस कमिश्नर दफ्तर पहुंचे. इसके बाद सीपी ऑफिस के निर्देश पर फर्रुखनगर की पुलिस छात्रा की तलाश में जुट गई है.

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, फर्रुखनगर के रहने वाले एक पिता ने बताया कि उनकी बेटी दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा है. पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी 21 वर्षीय बेटी बीते सोमवार को श्यामा प्रसाद मुखर्जी कॉलेज दिल्ली में दूसरे वर्ष के तीसरे सेमेस्टर का रीपीयर पेपर देने के लिए सुबह सात बजे घर से फर्रुखनगर रेलवे स्टेशन गई थी. बेटी का पेपर समय सुबह साढ़े नौ से साढ़े बारह बजे तक था. उसने अपना पेपर भी दिया. तीन बजकर बीस मीनट पर मेरे मोबाईल पर न्यू दिल्ली द्वारका से हरीश यादव नामक व्यक्ति का फोन आया.

बांदा में युवती की रेप के बाद हत्‍या, पहचान छिपाने को दाहिना हाथ भी काट ले गए दरिंदे

फोन पर दी ये धमकी
वह कहने लगा कि अर्चना (काल्‍पनिक नाम) तुम्हारी बेटी है क्या, बात ध्यान से सुन और कोई चालाकी करने की कौशिश मत करना नहीं तो इसका परिणाम बुरा होगा. तुम्हारी बेटी मेरे कब्जे में है. इसकी जान बचाना चहाते हो तो कहीं रिपोर्ट मत लिखवाना. तुम्हारी बेटी से सुसाईड नोट लिखवा लिया और उसकी वीडियो भी बना ली है. अगर कोई कार्रवाई की तो उसकी वीडियो वायरल कर दी जाएगी. घटना की सूचना स्थानीय पुलिस व पुलिस कंट्रोल रुम में देने के बाद भी उसकी पुत्री का कोई सुराग नहीं लगा. एसएचओ फर्रूखनगर बाबूलाल ने बताया कि अपहरण का मामला दर्ज कर लिया गया है. जिस नंबर से फोन आया था,उस नंबर की कॉल डिटेल निकलवाई जा रही है. जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.