नई दिल्ली| दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) के बीकॉम (ऑनर्स) में पढ़ाई जाने वाली एक किताब में छपे एक वाक्य पर जबरदस्त विवाद पैदा हो गया है, दरअसल, ‘बेसिक बिजनेस कम्यूनिकेशन’ नाम की इस किताब में ईमेल लिखने के लिए सलाह दी गयी है कि स्कर्ट की तरह छोटा ई-मेल लिखें, जिससे ईमेल में रुचि बनी रहे. इस किताब को डीयू के एक कॉलेज के कॉमर्स विभाग के पूर्व प्रमुख प्रोफेसर सीबी गुप्ता ने लिखा है.

किताब में लिखा है, ‘‘ई-मेल संदेश स्कर्ट की तरह होने चाहिए. इतना छोटा हो कि उसमें रुचि बनी रहे और लंबा इतना हो कि सभी महत्वपूर्ण बिंदू इसमें शामिल हो जाएं.” यूनिवर्सिटी के ज्यादातर कॉलेज में बीकॉम (ऑनर्स) के स्टूडेंट इस किताब को पढ़ते हैं. ये किताब हालांकि तकरीबन 10 साल पहले प्रकाशित हुई थी. हैरानी की बात है कि इतने साल बाद ये मुद्दा कैसे उठा? अब तक स्टूडेंट्स इसी किताब को पढ़ रहे थे.

किताब के लेखक गुप्ता ने लोगों की भावनाएं आहत होने पर खेद जताया है. उनका कहना है कि इस वाक्य में एक उपमा का इस्तेमाल किया गया है जो कि उन्होंने एक विदेशी लेखक के लेख से ली है. गुप्ता ने बताया, ‘मैंने अपनी किताब से यह बयान हटा लिया है. मैं प्रकाशक को भी सलाह दूंगा कि वह नये संस्करण की छपाई से पहले यह सामग्री हटा लें.’ उनका कहना है कि इस उपमा का इस्तेमाल एक गलती था, वो किसी की भावना आहत नहीं करना चाहते थे.