नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने सोमवार को घोषणा की कि अंतरराज्यीय बस सेवाएं तीन नवंबर से शुरू होंगी और यहां के तीन अंतरराज्यीय बस टर्मिनल (आईएसबीटी) को कोवड-19 से पहले की क्षमता से आधे पर संचालन की अनुमति दी जाएगी. Also Read - सरकार के बुलावे पर मीटिंग के लिए पहुंचे किसान नेता, यूं दिखे आत्‍मविश्‍वास से भरे तेवर

महानगर में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बीच यह कदम उठाया गया है, जहां पिछले कुछ दिनों से रोजाना पांच हजार नये मामले सामने आ रहे हैं. दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि अंतरराज्यीय बस सेवाओं के शुरू करने के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा. Also Read - Covid 19 In India: 31 हजार से अधिक करोना के नए मामले आए सामने, इन राज्यों में स्थिति गंभीर

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली में तीन नवंबर से तीन आईएसबीटी से बस सेवाएं फिर से शुरू हो रही हैं, हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि सभी एहतियात, मानक संचालन प्रक्रिया का पालन किया जाए. बसों का आईएसबीटी और उनके स्रोत पर सैनिटाइजेशन, यात्रियों और क्रू सदस्यों की थर्मल स्क्रीनिंग, यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य करने और बीमारी की स्थिति में जांच शिविर लगाने जैसी व्यवस्था होगी.’’ Also Read - रांची से दिल्ली भेजी जा रही थी 6 नाबालिग लड़कियां, 'नन्हे फरिश्ते' ने रेस्क्यू कर बचाया

दिल्ली परिवहन आधारभूत विकास निगम (डीटीआईडीसी) ने एक आदेश में कहा कि तीन नवम्बर से सराय काले खां, कश्मीरी गेट और आनंद विहार से अंतरराज्यीय बस सेवाओं का संचालन होगा. डीटीआईडीसी ही आईसबीटी का संचालन करता है.

(इनपुटः भाषा)