नई दिल्लीः देश में 21 दिन के लॉकडाउनके बावजूद लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं. बुधवार को राजधानी दिल्ली में ट्रैफिक पुलिस का एक असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर कोरोना पॉजिटिव पाया गाया है. इसके बाद एएसआई को इलाज के लिए दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया. कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनके परिवार को ऐहतियात को तौर पर होम क्वारंटीन में रहने को कहा गया है. Also Read - Lockdown5.0 में खुलेंगे स्कूल, कॉलेज! केंद्र सरकार ने जारी किए नए दिशा-निर्देश, जानें अब क्या हैं नियम

दिल्ली में अब तक कोरोना के कुल 606 मरीज संक्रमित पाए गए हैं जबकि कुल नौ लोगों ने अपनी जान गवाई है और अभी तक 20 मरीज इस खतरनाक वायरस से ठीक हो चुके हैं. ट्रैफिक पुलिस का असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर के कोविड-19 से पीड़ित होने के बाद कॉलोनी को पूरी तरह से सील कर दिया गया. पुलिस उन लोगों की भी तलाश कर रही जिनके संपर्क में वह थे. Also Read - World No Tobacco Day 2020: कोरोना काल में धूम्रपान करने से बचें, नहीं तो बढ़ सकता है संक्रमण का अधिक खतरा

बताया जा रहा है कि असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर को पिछले बुधवार से बुखार की समस्या थी जिसके बाद उन्होंने कोरोना का टेस्ट कराया और रिपोर्ट 7 अप्रैल को आई जिसमें उनके कोरोना पॉजिटिव होने का खुलासा हुआ. दिल्ली में तमाम कोशिश के बाद भी कोरोना संक्रमण के प्रसार में रोक नहीं लग पा रही है. मंगलवार को दिल्ली में कोरोना से पीड़ित दो लोगों ने अपनी जान गवाई.

दिल्ली सरकार लगातार इस वायरस को रोकने की कोशिशें कर रही है. सरकार का कहना है कि अब वह दक्षिण कोरिया के मॉडल के आधार पर दिल्ली से कोरोना को खत्म करेगी. हाल ही में सीएम केजरीवाल ने कोरोना के खिलाफ अपने अभियान में 5T प्लान को शामिल किया है और साथ ही दिल्ली सरकरा अब रैपिड टेस्टिंग के मूड में भी है.