नई दिल्ली: दिल्ली भाजपा के दो नेता ऐसे रहे, जिनका केजरीवाल की आंधी में भी कुछ नहीं बिगड़ा. लगातार दूसरी बार सीट बचाने में सफल रहे ये नेता हैं रोहिणी विधानसभा सीट से जीते विजेंद्र गुप्ता और विश्वासनगर से तीसरी बार विधायक बने ओम प्रकाश शर्मा. विश्वासनगर की बात करें तो 2013 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के ओम प्रकाश शर्मा ने कांग्रेस को हराकर दूसरी बार भाजपा का कब्जा इस सीट पर जमाया था. Also Read - मुफ्त राशन से लेकर पेंशन तक...कोरोना पीड़ित परिवारों और दिल्लीवासियों के लिए केजरीवाल सरकार के 4 बड़े ऐलान

इससे पहले 1993 में यह सीट भाजपा ने जीती थी. इसके बाद 2015 में केजरीवाल की आंधी के दौरान भी ओमप्रकाश शर्मा भाजपा की यह सीट बचाने में सफल रहे थे और अब 2020 के विधानसभा चुनाव में भी जीतने में सफल रहे. Also Read - केजरीवाल की केंद्र से अपील- सिंगापुर वाला कोरोना वैरिएंट बच्चों के लिए खतरनाक, ला सकता है तीसरी लहर! तुरंत बंद हों फ्लाइट्स

वहीं रोहिणी विधानसभा की बात करें तो यह सीट उत्तर पश्चिम दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में आती है. वर्ष 2015 में आम आदमी पार्टी की लहर में भी विजेंद्र गुप्ता ने भाजपा को जीत दिलाई थी और अब 2020 में भी पार्टी के कब्जे में सीट रखने में सफल हुए हैं. इन दोनों नेताओं की आम आदमी पार्टी की आंधी में भी लगातार सीट बचाने पर पार्टी के नेता उन्हें ‘दिल्ली के दबंग’ का तमगा देते हैं. Also Read - Lockdown Extended In Delhi: दिल्‍ली में लॉकडाउन एक हफ्ते बढ़ाया, CM केजरीवाल ने किया ऐलान

(इनपुट आईएएनएस)