नयी दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को पांच सदस्यीय शिष्टमंडल का गठन किया जो दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करके उन्हें रिपोर्ट सौंपेगा. गौरतलब है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में भड़की हिंसा में 39 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए. Also Read - यूपी: रायबरेली में सोनिया गांधी के 'लापता' होने के लगे पोस्टर, संसदीय क्षेत्र से बाहर होने पर उठे सवाल

  Also Read - दिल्ली सरकार ने अगले महीने के लिए राशन देना शुरू किया, जानिए कहां मिलेगी ये सुविधा

पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी बयान के अनुसार सोनिया ने मुकुल वासनिक, शक्ति सिंह गोहिल, कुमारी शैलजा, तारिक अनवर और सुष्मिता देव को जिम्मेदारी दी है कि वे उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे. वेणुगोपाल ने कहा कि ये शिष्टमंडल प्रभावित इलाकों का दौरा करने के तत्काल बाद सोनिया को अपनी रिपोर्ट सौंपेगा. गौरतलब है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में भड़की हिंसा में 39 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए.

अस्पतालों में घायलों को लाये जाने का सिलसला थमा
दिल्ली के उत्तर पूर्व इलाके में 24 और 25 फरवरी को हुई हिंसा के बाद अस्पतालों में घायलों को लाये जाने का सिलसला अब थम गया है. दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल(एलएनजेपी) में गुरुवार रात से कोई भी नया मरीज नही लाया गया है. अस्पताल के डिप्टी चीफ मेडिकल ऑफिसर रितु सक्सेना ने बताया कि गुरुवार रात 10.00 बजे के बाद से हिंसा से प्रभावित एक भी नया मरीज या घायल व्यक्ति अस्पताल नही लाया गया है. 24 और 25 फरवरी के हिंसा के बाद एलएनजेपी अस्पताल में 56 घायल लोग लाये गये थे, जिनमें से तीन की मौत हो चुकी है. मृतक का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंपा जा चुका है.