Delhi Violence: राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली के उत्‍तर-पूर्वी इलाके में हुई हिंसा में गुरुवार शाम को मृतकों की संख्‍या बढ़कर 38 हो गई है. वहीं, दिल्‍ली पुलिस ने हिंसा के सभी मामलों की जांच के लिए क्राइम ब्रांच के अंतर्गत दो एसआईटी गठित की हैं. Also Read - Coronavirus: दिल्‍ली पुलिस ने लगाए शबे-ए-बारात के ऐसे पोस्‍टर, कहा- घरों से बाहर न आएं

उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली में हुई हिंसा में 34 लोगों की मौत जीटीबी हॉस्‍प‍िटल, 3 मौतें एलएनजेपी हॉस्‍पिटल और एक मौत जग परवेश चंदर अस्‍पताल में हुई है. इससे पहले मौतों का आंकड़ा 34 बताया गया था, जो अब बढ़कर 38 हो गया है. Also Read - कोविड-19: आंध्र प्रदेश में 15 नए केस समेत लोग 329 संक्रमित, ये 3 शहर हॉटस्‍पॉट

गुरु तेग बहादुर अस्पताल ने 24 फरवरी से अब तक 215 पीड़ितों का इलाज किया है. 51 घायलों को वर्तमान में भर्ती किया गया है और इलाज प्राप्त कर रहे हैं, सभी मरीजों की हालत स्थिर है सिर्फ एक को छोड़कर. अस्पताल में इलाज के दौरान 9 घायलों की मौत हो गई. 24 फरवरी से अब तक 25 मृत लोगों को लाया गया है. Also Read - दिल्ली पुलिस में भी पहुंचा कोरोना वायरस का असर, ट्रैफिक एएसआई कोविडि-19 से संक्रमित

उत्‍तर-पूर्वी और पूर्वी दिल्‍ली में हुई हिंसा की जांच के लिए गुरुवार को स्‍पेशल इंन्‍वेस्टिगेशन टीम (SIT) का गठन दिल्‍ली की क्राइम ब्रांच के अंतर्गत कर दिया गया है. हिंसा के संबंध में दर्ज सभी एफआईआर एसआईटी को ट्रांसफर कर दी गईं है.

क्राइम ब्रांच की 2 एसआईटी का गठन डीसीपी जॉय तिर्की और डीसीपी राजेश देव के अधीन किया गया है. टीमों ने तुरंत नॉर्थ
ईस्ट दिल्ली हिंसा से जुड़े मामलों की जांच का जिम्मा सौंपा गया है. दोनों टीमों के काम की निगरानी करने के लिए एडिशनल
सीपी (क्राइम ब्रांच) बीके सिंह को दी गई है.

पुलिस ने अब तक 48 एफआईआर दर्ज की हैं. टीमों का नेतृत्व दो पुलिस उपायुक्त जॉय टिर्की और राजेश देव करेंगे. इन टीमों में सहायक पुलिस आयुक्त रैंक के चार अधिकारी भी होंगे और जांच की निगरानी अतिरिक्त पुलिस आयुक्त बीके सिंह करेंगे.

दिल्‍ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा ने कहा, स्‍थ‍िति सामान्‍य है. आज कोई घटना नहीं हुई है. पर्याप्‍त सुरक्षाबल तैनात किए गए है. अभी तक 48 एफआईआर दर्ज की गई हैं. हम और अधिक जानकारी जुटा रहे हैं. 350 अमन कमेटी की मीटिंग हुई हैं.

दिल्‍ली पुलिस के पीआरओ ने कहा, हम सभी व्‍यक्‍तिगत मामलों को देखेंगे. जांच जारी है. हमारे पास बहुत से फुटेज हैं. जैसे जांच प्रगति करती है, हम आपसे जानकारी साझा करेंगे. हम सभी एंगल से जांच कर रहे हैं.