नई दिल्ली: जाफराबाद, मौजपुर, गोकुलपुरी, करावल नगर आदि इलाकों में हुई हिंसा का सबसे बुरा असर इन इलाकों के स्कूलों पर पड़ा है. बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने भी अब इन इलाकों के स्कूलों में बोर्ड परीक्षाएं स्थगित करने की मांग की है. 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के अलावा 11वीं तक की स्कूल में होने वाली परीक्षाएं फिलहाल स्थगित कर दी गई हैं. सोमवार को हुई हिंसा के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, दिल्ली में हिंसा प्रभावित नॉर्थ-ईस्ट जिले में कल स्कूलों की गृह परीक्षाएं नहीं होंगी. सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे.” Also Read - मौलाना साद को गिरफ्तार नहीं करेगी दिल्ली पुलिस, सामने आए तो क्वारंटाइन में रखा जाएगा

उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री के इस आदेश के बाद अब नॉर्थ-ईस्ट जिले के तमाम स्कूल कल बंद रहेंगे और यहां होने वाली परीक्षाएं भी फिलहाल स्थगित कर दी गई हैं. हालांकि 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं दिल्ली सरकार के नियंत्रण से बाहर है. Also Read - लाकडाउन में केंद्र सरकार का राहत भरा कदम, फरवरी से समाप्त ड्राइविंग लाइसेंस की वैधता इस माह तक बढ़ाया

मंगलवार को होने वाली परीक्षाओं व बुधवार को दसवीं की पहली बोर्ड परीक्षा है, जिसको लेकर दिल्ली सरकार खासी चिंतित है. बुधवार को दसवीं के छात्रों की अंग्रेजी की प्रथम परीक्षा है. Also Read - भारत में लॉकडाउन! दिल्ली पुलिस ने लोगों को चेताया, भूलकर भी न खोलें ये वेबसाइट, नहीं तो...

मनीष सिसोदिया ने बोर्ड परीक्षाओं को लेकर कहा, “बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में मैंने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ जी से बात की है कि इस जिले में कल की बोर्ड परीक्षा भी स्थगित कर दी जाए. हालांकि दिल्ली सरकार के इस निवेदन पर फिलहाल मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कोई निर्णय नहीं लिया है.

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के विभिन्न इलाकों में जारी हिंसा व आगजनी की घटना पर उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने कहा, “तीन दशक से दिल्ली में हूं. अपने ही शहर में इतना डर कभी नहीं लगा. क्या हो रहा है ये? कौन लोग हैं जो दिल्ली में आग लगा रहे हैं? बेहद दुखी और शर्मिदा हूं आज. ये हमारी प्यारी दिल्ली है. देश की राजधानी है. इसे बचाना ही होगा.”

सभी दिल्ली वालों से दिल्ली सरकार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों ने शांति बनाए रखने की अपील की है. हिंसाग्रस्त क्षेत्र में जाकर विधायक व दिल्ली सरकार में पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने भी क्षेत्र के लोगों से संपर्क कर शांति बहाली की अपील की है. राय ने कानून व्यवस्था के मुद्दे पर उपराज्यपाल से भी बात की है.

(इनपुट भाषा)