नई दिल्ली: नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुए हिंसा में अब तक 46 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. यही नहीं इस हिंसा में कई घरों को भी जलाकर राख कर दिया गया. इसी दौरान बीएसएफ के एक जवान मोहम्मद अनीस के घर को भी आग के हवाले कर दिया गया था. हिंसा के वक्त अनीस ड्यूटी पर तैनात थे. घर की नुकसान की भरपाई के लिए बीएसएफ महानिरीक्षक डीके उपाध्याय ने मोहम्मद अनीस को 10 लाख रुपये का चेक भरपाई के तौर पर दिया ताकि घर की मरम्मत दोबारा से की जा सके. Also Read - Fire On INS Vikramaditya: विमान वाहक पोत INS विक्रमादित्य में आग, सभी कर्मचारी सुरक्षित

गौरतलब है कि बीते दिनों नागरिकता कानून विरोधी प्रदर्शकारियों और नागरिकता कानून के समर्थन में उतर प्रदर्शनकारियों के बीच हुए पथराव के बाद भीड़ ने हिंसा का रूप ले लिया. इसके बाद कई घरों व धार्मिक स्थानों को आग के हवाले कर खूब तोड़-फोड़ मचाया गया था. इस हिंसा में एक आईबी अधिकारी, एक पुलिस कॉन्सटेबल सहित कईयों की मौत हो चुकी हैं. Also Read - Jammu Kashmir: कठुआ जिले की कूलर और LED बनाने वाली फैक्ट्री में लगी भयंकर आग, लाखों की संपत्ति जल कर राख

वहीं बीती रात जनकपुरी व द्वाराक इलाकों में भी हिंसा की बात सामने आई. लेकिन पुलिस ने मोर्चा संभाले रखा और माइक पर सूचना दी गई कि दंगे की अफवाह फैलाई जा रही है. इसके बाद हिंदू-मुस्लिम सभी ने मिलकर एक साथ दिल्ली पुलिस जिंदाबाद के नारे भी लगाएं. Also Read - Gujarat: भरूच के अस्‍पताल में भीषण आग में कोविड मरीजों की मौत का आंकड़ा 18 हुआ, 50 मरीज बचाए गए