नयी दिल्ली: दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने बीते महीने राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर-पूर्वी जिले में हुए दंगों के दौरान खुफिया ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या के संबंध में बृहस्पतिवार को एक व्यक्ति को पकड़ा है. पुलिस ने बताया कि आरोपी की पहचान सलमान उर्फ नन्हे के रूप में हुई है. Also Read - कोरोना का खौफ, एक व्यक्ति ने लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर जाने पर छोटे भाई को मार डाला

  Also Read - Happy Birthday: इन फिल्मों से मिली इमरान हाशमी को बॉलीवुड में खास पहचान, बन गए इंडस्ट्री के 'सीरियल किसर'

शर्मा के लापता होने के एक दिन बाद 27 फरवरी को उनका शव उत्तर-पूर्वी दिल्ली के चांदबाग में उनके घर के नजदीक एक नाले से मिला था. इससे पहले पुलिस ने इस मामले में आम आदमी पार्टी के निलंबित निगम पार्षद ताहिर हुसैन को गिरफ्तार किया था. दिल्ली पुलिस अपराध शाखा के एक सूत्र के अनुसार, घटना वाले दिन ताहिर हुसैन ने सबसे ज्यादा और लगातार जिन लोगों के साथ बात की थी, एसआईटी ने शुक्रवार को उन 15 लोगों की पहचान कर ली. यह बातचीत मोबाइल के जरिए हुई. ताहिर ने इन सबसे उसी दिन इतनी ज्यादा देर तक क्यों और क्या लंबी बातचीत की? इसका खुलासा नहीं हो सका है.

एसआईटी सूत्रों के मुताबिक, चिन्हित किए गए लोगों में ताहिर हुसैन के कई रिश्तेदार भी शामिल हैं. जिनके बारे में ताहिर ने बस इतना ही कहा है कि घटना वाले दिन वो इन लोगों को हिंसाग्रस्त इलाके में जाने को कह रहा था. हालांकि, दिल्ली पुलिस अपराध शाखा के गले उसकी यह दलील कतई नहीं उतर रही है. एसआईटी को उम्मीद है कि भले ही दो दिन में ताहिर से कुछ विशेष हासिल ना हो सका हो, मगर आने वाले एक दो दिन में उससे काफी कुछ जानकारियां मिलने की उम्मीद हैं. ताहिर के खिलाफ मुख्य मामला अंकित शर्मा हत्याकांड का है. इस मामले में अभी तक एसआईटी के हाथ फिलहाल कुछ खास नहीं लगा है.