हाइकोर्ट से झटका लगने के बाद आम आदमी पार्टी अपनी ज़िम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए दिख रही है। हाइकोर्ट से शिकस्त झेलने के बाद अब आम आदमी पार्टी के नेता कह रहे हैं कि  दिल्ली के लोगों को कोई भी समस्या हो, तो अरविंद केजरीवाल सरकार के पास नहीं, उपराज्यपाल (लेफ्टिनेंट गवर्नर या एलजी) नजीब जंग के पास जाएं।

आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष कुमार ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि, “दिल्ली के लोगों से निवेदन है कि अब बिजली, पानी, सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, करप्शन आदि किसी भी समस्या के लिए एलजी का दरवाज़ा खटखटाएं, या अगर नाराज़गी ज़ाहिर करनी है, तो वहां प्रदर्शन करें, क्योंकि अब उनके पास ही अधिकार हैं…” यह भी पढ़े: नजीब जंग तानाशाह, चल रहे मोदी के इशारे पर : केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के नेता ने कहा कि वह हाईकोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं, लेकिन असहमति के साथ वह सुप्रीम कोर्ट जाएंगे और जब तक सुप्रीम कोर्ट कोई फैसला नहीं दे देती, दिल्ली में इसी व्यवस्था के तहत काम करने की कोशिश आम आदमी पार्टी और सरकार करेंगे।

इस पूरे मामले पर बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि, “यह बहुत गैरज़िम्मेदाराना बयान है और अपनी ज़िम्मेदारियों से भागने वाली बात है, जिसकी निंदा की जानी चाहिए।
गौरतलब है कि गुरुवार को दिल्ली हाइकोर्ट ने अपने एक फैसले में दिल्ली में एलजी को सर्वेसर्वा बताया था और कहा था कि कोई भी कानून या नोटिफिकेशन एलजी की अनुमति के बिना नहीं बनाया जा सकता।

News Source:NDtv