Corona Virus: कोरोना वायरस का एक और खतरनाक वैरिएंट डेल्टा प्लस अब कर्नाटक पहुँच गया है. राज्य में इस वैरिएंट का पहला केस मिला है. मरीज में कोई लक्षण नहीं हैं. सरकार का कहना है कि संक्रमित शख्स के संपर्क में आए लोगों में से भी कोई संक्रमित नहीं मिला है.Also Read - दिल्ली में अब तक करीब 98 लाख कोरोना की खुराकें दी गईं, जानें क्या है वैक्सीनेशन की स्थिति

बता दें कि खतरनाक वैरिएंट डेल्टा प्लस भारत में दस्तक दे चुका है. अब तक महाराष्ट्र, केरल और मध्य प्रदेश में इससे संक्रमित लोग पाए गए हैं. इस खतरनाक वैरिएंट के अब तक 40 से अधिक लोग संक्रमित मिल चुके हैं. ये नया वैरिएंट दूसरी लहर के वायरस से अधिक खतरनाक बताया जाता है. Also Read - CoronaVirus Kerala Alert: कोरोना वायरस ने केरल में एक बार फिर बनाया नया रिकॉर्ड, तीसरे लहर की चेतावनी तो नहीं...

कर्नाटक सरकार ने कहा कि “मैसुरु में, एक मरीज ‘डेल्टा प्लस’ स्वरूप से संक्रमित है जिसे हमने अलग कर दिया है, लेकिन उसमें संक्रमण के कोई लक्षण नहीं हैं.’’ उन्होंने कहा कि उसके संपर्क में आया कोई भी व्यक्ति संक्रमित नहीं है जो एक अच्छा संकेत है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार नए स्वरूपों को लेकर सावधानीपूर्वक निगरानी कर रही है और राज्य में छह जीनोम प्रयोगशालाएं स्थापित करने का फैसला किया गया है. उन्होंने कहा कि कर्नाटक में प्रतिदिन लगभग 1.5 लाख से दो लाख कोविड-19 जांच की जा रही है. Also Read - बीजेपी विधायक ने कहा- ऑक्सीजन की कमी से सैकड़ों लोग तड़प-तड़प कर मरे, दर्द किसी को दिखाई नहीं देता