देश में नोट बंदी के बाद हर दिन एक नई खबर सुनने को मिल रही है। आपको बता दें की नोट बंदी के कारण देश के अंदर एक अलग ही माहौल बना हुआ है। जहां पर कुछ लोग पीएम मोदी के इस फैसले का जमकर सर्मथन कर रहें हैं। लेकिन अगर आपके पास अभी भी 500 और 1000 के नोटों है तो उसे जल्दी से खत्म करें। एक हिंदी वेबसाइट की खबर के अनुसार 500-1000 की नोट पर 24 नवंबर से पहले बैन लग सकता है। अब तक जो जानकारी सामने आई उसके अनुसार केंद्र सरकार अब इस मसले पर विचार कर रही कि नोटबंदी पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दिया जाए और लोग 500 और 1000 के पुराने नोट सिर्फ अपने खाते में जमा कराएं।Also Read - रुपए नहीं चुरा पाए तो पूरा ATM ही उखाड़कर ले गए चोर, मशीन में 35 लाख की करेंसी थी

Also Read - समान नागरिक संहिता असंवैधानिक, किसी भी सूरत में न की जाए लागू: मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

देश के अंदर बड़े पैमाने पर केंद्र सरकार लोगो को राहत देने का काम कर रही है। लेकिन अभी भी बैंक के बाहर लोगो की भीड़ लगी हुई है। पीएम मोदी ने कालेधन पर बड़ी मार करते हुए उन्होंने 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने का ऐलान किया। कुछ देर तो लोगों को कुछ समझ ही नहीं आया। जब सारी बातें समझ आयीं तो लोगों ने प्रधानमंत्री के इस साहसिक कदम की सराहना की। लेकिन कुछ दिन लाइन में लगने के बाद लोगों को लगा कि फैसला तो अच्छा था लेकिन इससे जनता परेशान हो रही है। सरकार के विमुद्रीकरण के फैसले के बाद आम जनता में कुछ अव्यवस्था जरूर हुई है लेकिन कई मसले खुद-ब-खूद हल हो गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस फैसले का सकारात्मक असर भी दिखना शुरू हो गया है। यह भी पढ़ें: बिल गेट्स ने पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले को बताया साहसिक कदम Also Read - Drugs Case: फडणवीस पर नवाब मलिक ने फोड़ा हाइड्रोजन बम-जाली नोटों का धंधा, अंडरवर्ल्ड कनेक्शन, जानिए...

‘बैंक लॉकर सील, आभूषण जब्त जैसी खबर को बताया अफवाह

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने बैंक लॉकरों को सील करने और आभूषणों को जब्त करने जैसी ऐसी अटकलों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि सरकार ऐसा कोई कदम नहीं उठाने जा रही। कुछ मामलों में 2,000 रुपये के नए नोटों से स्याही निकलने की खबरों पर भी मंत्रालय ने स्थिति स्पष्ट की। मंत्रालय ने अधिकारिक रूप से ट्वीट कर कहा, “यह केवल कपोल कल्पना है कि सरकार का अगला कदम बैंक लॉकरों को सील करना और आभूषणों को जब्त करना है। ऐसी बातें निराधार हैं। बैंक लॉकरों को सील करने और आभूषण जब्त करने का कोई प्रस्ताव नहीं है। मंत्रालय ने यह भी कहा कि 2,000 रुपये के नए नोटों में सुरक्षा की दृष्टि से कई विशेषताओं शामिल किया गया है, जिनमें ‘उत्कीर्ण’ मुद्रण भी शामिल है। मंत्रालय ने कहा, “सही नोट की पहचान के लिए जब आप इसे कपड़े पर रगड़ेंगे तो एक टर्बो विद्युत प्रभाव उत्पन्न होता है और इसी कारण स्याही कपड़े में लग जाती है।