500-1000 के नोट बंदी के कारण लोगो की परेशानी में कोई कमी नही हो रही है। पीएम मोदी ने के घोषणा के बाद से ही देश के अंदर 500-1000 के नोट पर बैन लग गया। उसके बाद से बैंक और एटीएम के बाहर लोगो की जो लाइन लगी वह अब तक कम नही हुई है। नोटबंदी के चलते लोगों को हो रही दिक्कतों को देखते हुए केंद्र सरकार नें उन तमाम लोगों को बड़ी राहत दी है। अब जिनके घर में विवाह है उनके लिए केंद्र सरकार ने विवाह के लिए 2.5 लाख रुपए तक के निष्कासन की इजाजत दे दी है।Also Read - Drugs Case: फडणवीस पर नवाब मलिक ने फोड़ा हाइड्रोजन बम-जाली नोटों का धंधा, अंडरवर्ल्ड कनेक्शन, जानिए...

Also Read - Agusta Westland से जुड़ी कंपनी से बैन हटा, तो कांग्रेस ने पूछा- क्या गुप्त सौदा है?

वित्त मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने आज सरकार के फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि अब सरकार ने 500 और 1000 के पुराने नोटों को बदलवाने की सीमा घटा दी है. सरकार ने यह सीमा 4500 से घटाकर 2000 कर दी है इसके साथ ही जिन घरों में शादी है, वें 2.5 लाख रूपये तक निकाल सकते है। फिलहाल 2.5 लाख रूपये एक ही खाते से निकालेंगे। Also Read - मोदी सरकार अब दो कंटेनर वाले सचल अस्‍पताल चलाएगी, प्‍लेन या ट्रेन से कहीं भी ले जाए जा सकेंगे

नोट बंदी के बाद से ही केंद्र सरकार पर विपक्ष ने जमकर हमला किया और कहा की लोगो को दिक्कतों का समाना करना पड़ रहा है। जनता के पास सही तरीके से सुविधा नही पहुँच रहा है। जिसका परिणाम यह है की लोग परेशान है। नोट बंदी के मसले पर संसद में भी जमकर हंगामा किया जा रहा है। कांग्रेस समेत कई पार्टियों ने मोदी सरकार पर हमला करना शुरू कर दिया है। यह भी पढ़ें: नोट बंदी के बाद बैंकों में जमा हुई मोटी रकम, आम आदमी को मिल सकता है यह ‘तोहफा

गौरतलब हो की पहले मनी एक्सचेंज के दौरान बैंक में लोगो से उनके आईडी का ज़ेरॉक्स मांगा जा रहा था लेकिन अब आपको सिर्फ ऑरिजनल आईडी अपने पास रखना होगा। इसके साथ ही बैंक में जिस तरह से पैसे जमा हो रहें हैं उसका फायदा भी जनता को मिल सकता है बता दें की एक अनुमान के मुताबिक, देशभर में अभी तक बैंकों के पास चार लाख करोड़ रुपये जमा हो गए हैं। जिसके कारण बैंको ने डिपाजिट रेट में कटौती शुरू कर दी है। लेकिन इन सभी में यह खबर भी लोगो के लिए काफी राहत भरी है। कई शादियां तय हो चुकी हैं और जब उन्हें बैंक से 2.5 लाख निकलाने की अनुमति मिल चुकी है तो उनके लिए यह एक बड़ी बात है। यह भी पढ़ें: नोटबंदी की खिलाफत करने पर उद्धव ठाकरे को राजनाथ ने किया फोन

फिलहाल लगातार देश के अंदर नोट बंदी के कारण जनता परेशान है लेकिन इसके बाद भी जनता मोदी के इस फैसले का समर्थन कर रहे हैं। लेकिन एक सच यह भी है की पैसे की कमी जो है उसके अनुसार लोग जरूरत की चीजें अब नही ले पा रहे हैं। फिलहाल इस खबर के बाद अब उन लोगों में खुशी जिनके घर पर बारात आने वाली है।