अहमदाबाद: गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने बृहस्पतिवार को कहा कि जो संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं और ‘आजादी’ मांग रहे हैं उन्हें देश छोड़कर जाने दिया जाना चाहिए. वह यहां नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे. Also Read - PM Modi in Kevadia LIVE: पीएम मोदी गुजरात पहुंचे, केवड़िया में थोड़ी देर में सैन्‍य कमांडरों के सम्मेलन को करेंगे संबोधित

पटेल ने कहा कि देश को आजादी 1947 में मिल गई थी लेकिन आप देखते हैं कि कुछ लोग जमा होते हैं और ‘आजादी’ के नारे लगाते हैं. आपको किससे आजादी चाहिए? क्या आपको अपने माता-पिता से आजादी चाहिए? क्या आप अपने पति से आजादी चाहती हैं? मैं इसे समझ नहीं पाता हूं. उन्होंने कहा कि भारत एक आजाद देश है और दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है. Also Read - BARC Report: साल 2020 में PM Modi का टेलीविजन पर रहा जलवा, दूरदर्शन ने भी किया राज, जानिए टॉप ट्रेंड

भाजपा नेता ने कहा कि अगर वे भारत से आजादी चाहते हैं तो हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह करना चाहिए कि वह सीमा खोल दें और ये जहां जाना चाहते हैं, चले जाएं. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अहमदाबाद में सीएए विरोधी प्रदर्शनों के दौरान पुलिस पर पूर्व योजना के तहत हमला किया गया था. उन्होंने कहा कि इस दौरान ट्रक भरकर पत्थर इकट्ठा किया गया था लेकिन वे भूल गए कि यह गुजरात है कश्मीर नहीं. Also Read - In Pictures: जिससे LPG Gas कनेक्शन लेने में होती रही परेशानी, सरकार ने अब बदल दिए नियम