नई दिल्ली: दर्शकों की भारी भीड़ के बीच दिल्ली के मशहूर कनॉट प्लेस में शनिवार को लेजर शो के साथ दिवाली का जश्न शुरू हुआ. इसका आयोजन दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार लोगों को पटाखों से दूर रहने के लिए प्रोत्साहित करने और प्रदूषण कम करने के लिए कर रही है.

अयोध्या में दीपोत्सव: 5 लाख दीयों से राम नगरी जगमग, उपलब्धि गिनीज बुक में दर्ज

लेजर शो के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हर साल लोग दिवाली से पहले पटाखे चलाते हैं लेकिन इस बार उन्होंने बदलाव देखा है. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने राजधानी में पटाखे फोड़े जाने की एक आवाज नहीं सुनी है और यह अच्छी शुरुआत है.’’

सेंट्रल पार्क में आयोजित चार दिवसीय कार्यक्रम ‘ दिल्ली की दिवाली’ के पहले दिन उप राज्यपाल अनिल बैजल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी सैकड़ों लोगों के साथ मौजूद थे. लेजर शो के दौरान रोशनी के तरंगों के साथ देशभक्ति गीत और रामायण की ध्वनि सुनाई दी.

सिसोदिया ने लोगों से इस आयोजन में सुधार करने के लिए सुझाव आमंत्रित करते हुए कहा, ‘‘आज पूरा शहर सामुदायिक दिवाली मनाने के लिए एकत्र हुआ है. यह ऐसा कुछ है जो पहली बार हो रहा है.” कनॉट प्लेस के कारोबारियों ने हालांकि शिकायत की कि लेजर शो के कारण रास्ते और पार्किंग बंद कर दी गई जिसकी वजह से उनके कारोबार में 70 से 80 फीसदी की गिरावट आई है.