नई दिल्ली: कर्नाटक कांग्रेस के नेता डीके शिवकुमार ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पीएमएलए (धन शोधन निवारण अधिनियम) की धारा 50 के तहत प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दर्ज किए गए अपने बयानों की प्रति मांगने के लिए दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है. बता दें कि डीके शिवकुमार कर्नाटक की कनकपुरा सीट से कांग्रेस के विधायक हैं. वह अपनी गिरफ्तारी से ही ईडी की हिरासत में हैं और उन्हें आज निचली अदालत में पेश किया जाना है.

 

शिवकुमार को तीन सितंबर को ईडी ने गिरफ्तार किया था. उन्होंने अदालत का रुख करके कहा कि जांच एजेंसी के पास उनके खिलाफ धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों को लागू करने का कोई अधिकार क्षेत्र नहीं है. उन्होंने अदालत से यह भी निर्देश देने का अनुरोध किया है कि पीएमएलए की धारा 50 के तहत ईडी के सहायक निदेशक द्वारा दर्ज किए गए उनके बयान की प्रतिलिपि उन्हें दी जाए.

कांग्रेस के ‘संकटमोचक’ को नहीं मिली राहत, कोर्ट ने 17 सितंबर तक बढ़ाई ईडी हिरासत

कर्नाटक की कनकपुरा सीट से कांग्रेस विधायक हैं डीके शिवकुमार
शिवकुमार कर्नाटक की कनकपुरा सीट से कांग्रेस के विधायक हैं. वह अपनी गिरफ्तारी से ही ईडी की हिरासत में हैं और उन्हें आज निचली अदालत में पेश किया जाना है. (इनपुट एजेंसी)