मुंबई. देश में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या सितंबर में बढ़कर 113.98 लाख पर पहुंच गई है. यह पिछले साल के इसी अवधि की तुलना में करीब 19 प्रतिशत अधिक है. विमानन कंपनियों के हवाई टिकट पर भारी छूट देने की वजह से इसमें वृ्द्धि हुई.
विमानन नियामक डीजीसीए के बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर में समय पर उड़ान के मामले (ओटीपी) में इंडिगो पहले पायदान से खिसक पर तीसरे पर आ गया है. पहले पायदान पर गोएयर रहा. देश के चार प्रमुख हवाई अड्डों से समय पर उड़ान भरने का औसत 90.4 प्रतिशत रहा. Also Read - Irctc Indian Railway: रेलवे ने अपने नाम किया यह रिकॉर्ड, 166 साल के इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा

आंकड़ों के मुताबिक, सभी विमानन कंपनियों ने घरेलू उड़ानों में सितंबर में 113.98 लाख यात्रियों को ढोया जबकि पिछले वर्ष इसी महीने यह आंकड़ा 95.83 लाख था. इंडिगो ने 49.20 लाख यात्रियों यानी 43.20 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ अपनी बादशाहत को बरकार रखा है. इसके बाद जेट एयरवेज का स्थान है. Also Read - Good News: 166 साल में पहली बार रेलवे ने कर दिखाया ये कमाल, इन बातों को जानकर आपको होगा गर्व

जेट ने 16.13 लाख यात्रियों ने उड़ान भरी
जेट ने 16.13 लाख यात्रियों ने उड़ान भरी और उसकी बाजार हिस्सेदारी 14.2 प्रतिशत रही. इसके बाद स्पाइसजेट (13.63 लाख) और एयर इंडिया (13.45 लाख) का नंबर आता है. सीटों को भरने की स्थिति में स्पाइस जेट शीर्ष पर रही उसकी 94.5 सीटें भरी रहीं। इसके बाद गोएयर की 90.6 प्रतिशत भरी रही. डीजीसीए ने कहा कि त्योहारी सीजन शुरू होने से सितंबर में सीटों भरने में तेजी रही. Also Read - Domestic Airlines New Guidelines: मिडिल सीट की बुकिंग के लिए जारी हुए नए नियम, जानें क्या करना होगा आपको