नई दिल्ली: घरेलु उड़ानें 25 मई से शुरू हो रही हैं. ऐसे में केंद्र सरकार तैयारियों में लगी है. इस बीच केंद्र सरकार ने घरेलु उड़ानों में सफ़र करने वालों के लिए किराए का ऐलान कर दिया है. सरकार ने 7 स्लैब में किराए की दरें घोषित की हैं. हर स्लैब में फ्लाइट के उड़ान के समय के हिसाब से किराया वसूला जाएगा. ये किराया दो हज़ार से 7 हज़ार तक होगा. Also Read - कोविड-19 की भेंट चढ़ा हैदराबाद ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट, कोच पुलेला गोपीचंद ने किया रिएक्ट

पहली स्लैब– डीजीसीए के अनुसार, 40 मिनट से कम समय में यात्रा पूरी होने वाली उड़ानों के लिए किराए की निचली सीमा 2000 रुपए और अधिकतम सीमा 6000 रुपए होगी. Also Read - Unlock 1 के बीच इस राज्य की सरकार ने उठाए कड़े कदम, वीकेंड के दो दिन रहेगा पूरी तरह से लॉकडाउन

दूसरी स्लैब– 40 से 60 मिनट में यात्रा पूरी होने वाली उड़ानों के लिए किरायों की निचली और ऊपरी सीमा क्रमश: 2,500 रुपये और 7,500 रुपए होगी. Also Read - लॉकडाउन में बुर्जुग पिता कर रहे इस भारतीय विकेटकीपर की प्रैक्टिस में मदद

तीसरी स्लैब– 60 से 90 मिनट की अवधि वाली उड़ानों के लिए किरायों की निचली और ऊपरी सीमा क्रमश: 3,000 रुपये और 9,000 रुपये होगी.

चौथी स्लैब– 150 से 180 मिनट की अवधि वाली उड़ानों, जैसे दिल्ली-इंफाल के लिए किरायों की निचली और ऊपरी सीमा क्रमश: 5500 रुपये और 15700 रुपये होगी.

पांचवीं स्लैब– इसमें किराया 4500 से 13000 होगा.

छठवीं स्लैब– इसमें किराया 5500 से 15700 तक होगा.

सातवीं स्लैब– 6500 से 18600 रुपए होगा.

विमान सेवा के नए नियम: हवाई यात्रा करने जा रहे हैं तो इन बातों का रखें ध्यान
– अगर डोमेस्टिक फ्लाइट (Domestic Flight) से यात्रा करने जा रहे हैं तो कई नए नियमों से आपका सामना होगा, जो एकदम नए हैं.
– सबसे पहला नियम यही है कि यात्री को फ्लाइट के निर्धारित समय से दो घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचना होगा.
– यात्रियों को फेस मास्क लगाना अनिवार्य होगा.
– यात्रियों को हाथों में ग्लव्स भी पहनने होंगे.
– सेनिटाइजर साथ लेकर आना होगा.
– पहले फ्लाइट में खाते-पीते जाते थे, अब ऐसा नहीं होगा यानी खाना नहीं मिलेगा.
– पानी की बोतल भी गैलरी एरिया में उपलब्ध रहेगी या फिर सीट पर पहले से ही रख दी जाएगी.

आरोग्य सेतु ज़रूरी (Arogya Setu App)
– आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना ज़रूरी होगा. इस एप में बताना होगा कि यात्री को कोरोना के कोई लक्षण नहीं हैं.
– जिन यात्रियों के आरोग्य सेतु एप में रेड स्टेटस होगा, उन्हें यात्रा नहीं करने दी जाएगी.
– केबिन क्रू मेम्बर्स भी पूरी सुरक्षा के साथ होंगे

एयरपोर्ट पर किसी भी तरह की फिजिकल चेकिंग नहीं होगी
– जो यात्री ऑनलाइन चेक-इन करेंगे, सिर्फ उन्हें ही यात्रा करने की अनुमति होगी.
– सिर्फ एक बैग ले जाने की अनुमति होगी.
– कोई न्यूज़पेपर या मैगजीन नहीं ले जा सकते.
– जो कोरोना के कंटेनमेंट ज़ोन में रहते हैं वह यात्रा नहीं कर पायेंगे.
– अगर किसी ने नियमों का उलंघन किया तो मुश्किल में फंसेगा और कानूनी कार्रवाई की जाएगी.