वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी कांग्रेस को जनरलाइज सिस्टम आफ प्रेफरेंस (जीएसपी) कार्यक्रम के तहत लाभकारी विकासशील देश के रूप भारत और तुर्की को दी गई उपाधी को समाप्त करने के अपने इरादे से अवगत कराया.

ट्रंप ने दलील दी कि भारत, अमेरिका को यह आश्वासन देने में विफल रहा है कि वह विभिन्न क्षेत्रों में अपने बाजारों को न्यायसंगत एवं उचित पहुंच प्रदान करेगा. अमेरिकी प्रतिनिधिसभा की स्पीकर नैन्सी पैलोसी को लिखे एक पत्र में ट्रम्प ने कहा कि भारत ने अमेरिका को ‘‘आश्वस्त नहीं किया” कि वह भारत के बाजारों में “न्यायसंगत एवं उचित पहुंच प्रदान करेगा.

आंकलन करना जारी रखूंगा
ट्रम्प ने चिट्ठी में कहा, मैं यह आकलन करना जारी रखूंगा कि भारत सरकार ‘जीएसपी’ पात्रता मानदंड के अनुसार, अपने बाजारों में समान एवं उचित पहुंच प्रदान करती है या नहीं. पत्र की एक प्रति मीडिया को भी जारी की गई है. ट्रम्प ने एक अन्य पत्र में तुर्की से भी यह उपाधी वापस लेने की जानकारी दी.