‘स्वच्छता ही सेवा’ कैंपेन के तहत ड़िपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग ने एक शानदार पहल की है. विभाग ने नॉर्थ ब्लॉक के तीन महिला वॉशरूम में सैनिटरी नेपकिन वेंडिंग और नैपकिन डिस्पोजल मशीन लगाई है. ये मशीनें वॉशरूम ग्राउंड फ्लोर, फर्स्ट और सेकेंड फ्लोर में लगाई गई हैं.Also Read - BSF's jurisdiction Issue: Punjab CM ने किया कड़ा विरोध, बोले- यह मोदी सरकार का अलोकतांत्रिक फैसला

इस विभाग की ज्वाइंट सेक्रेटरी श्रीमति के. किपजेन और श्रीमति जी. जयंती ने नैपकिन वेंडिंग और नैपकिन डिस्पोजल मशीन का अनावरण किया. इस मौके पर अवर सचिव श्रीमति मंजुला जुनेजा सहित कई महिला कर्मचारी यहां मौजूद थीं. Also Read - एयर इंडिया पर सरकार ने अभी तक कोई फैसला नहीं किया और मुझे नहीं लगता कि ऐसा कोई निर्णय हुआ है: पीयूष गोयल

Also Read - भारत सरकार ने ट्विटर को नए IT नियमों के पालन के लिए भेजा फाइनल नोट‍िस, बताया क्‍या होगा अंजाम

इन तीनों वेंडिंग मशीन में पांच रुपये का सिक्का डालकर नैपकिन लिया जा सकता है. इसे नो प्रॉफिट नो लॉस के आधार पर चलाया जा रहा है. डिस्पोजल मशीन में ऐसे तकनीक है जो इस्तेमाल हो चुके नैपकिन को पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बिना नष्ट करता है.

इस तरह की मशीनें इसी विभाग के दो और भवनों लोकनायक भवन और जेएनयू कैंपस में लगाई जाएंगी. इस मौके पर मौजूद महिलाओं ने विभाग के इस अच्छे कदम के सराहना की है. इन्होंने उम्मीद जताई कि दूसरे सरकारी विभागों में भी इस तरह के कदम उठाए जाएंगे.