दिल्ली: उत्तर प्रदेश में कई महीनों जेल में बंद रहे डॉ. कफील खान चर्चा में हैं. डॉ. कफील ने प्रियंका गाँधी ने मुलाक़ात की. इस दौरान डॉ. कफील के साथ उनकी पत्नी और बच्चे भी मौजूद रहे. दिल्ली में प्रियंका गाँधी से मुलाक़ात के दौरान यूपी कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और अल्पसंख्यक कांग्रेस के चेयरमैन शाहनवाज आलम भी मौजूद थे. Also Read - कमलनाथ का ज्‍योतिरादित्य सिंधिया पर तंज, बीजेपी ने दूल्हा तो बना दिया, दामाद नहीं बनने देगी

बता दें कि डॉक्टर कफ़ील खान की जेल से रिहाई के बाद कांग्रेस महासचिव ने कफ़ील खान और उनके परिजनों से फोन पर बातचीत कर उनका हालचाल लिया था और हर संभव मदद का वादा किया था. यूपी में कांग्रेस पार्टी ने डॉक्टर कफ़ील की रिहाई के लिए एक बड़ा अभियान चलाया था. पूरे सूबे में हस्ताक्षर अभियान, विरोध प्रदर्शन और पत्र लिखकर कांग्रेसियों ने डॉक्टर कफ़ील खान की रिहाई के लिए आवाज़ बुलंद की थी. Also Read - राहुल गांधी का PM मोदी पर हमला- पहली बार दशहरा में 'रावण' नहीं, प्रधानमंत्री का पुतला जलाया गया

बता दें कि कुछ दिन पहले ही कोर्ट ने डॉ. कफील पर यूपी सरकार द्वारा की गई एनएसए की कार्रवाई को अवैध करार दिया था. डॉ. कफील अलीगढ़ जेल में बंद थे. कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें जेल से रिहा किया गया था. बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. कफील गोरखपुर में तैनात थे. मेडिकल कॉलेज में हुईं बच्चों की मौतों का आरोप भी डॉ. कफील पर लगा था. इसके बाद वह चर्चा में आये थे. इस मामले में भी डॉ. कफील को जेल जाना पड़ा था. इसके बाद से आरोप लगा कि डॉ. कफील शासन प्रशासन के निशाने रहे और उन्हें बार-बार परेशान किया गया. अलीगढ़ में सीएए और एनआरसी को लेकर दिए गए भाषण को लेकर डॉ. कफील पर एनएसए लगा दिया गया था. Also Read - भूमि कानूनों में संशोधनों पर कांग्रेस ने कहा- जम्मू-कश्मीर की जनता छला हुआ महसूस कर रही है